आरएसएस (RSS) ज्वाइन कैसे करें? ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन|How to Join RSS in Hindi

RSS Join Kaise Kare: आज के लेख में हम आपको आरएसएस जॉइन करने के बारे में बताने वाले हैं| यदि आप भी आरएसएस जॉइन करना चाहते हैं तो आज का हमारा लेख आपके लिए उपयोगी साबित होने वाला है क्योंकि हम आपको RSS Join Kaise Kare के बारे में बताएंगे| दोस्तों आरएसएस एक हिंदू राष्ट्रवादी संगठन है| जिसका सिद्धांत हिंदुत्व को बढ़ावा देना है यह संगठन हिंदू लोगों को जागरूक करता है और हिंदू समुदाय को मजबूत करने के लिए लोगों में हिंदुत्व की विचारधारा का प्रचार करता है|

यदि आप भी हिंदू है या फिर आप भी आरएसएस जॉइन करना चाहते हैं या आरएसएस के बारे में सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे लेख को अंत तक जरूर पढ़ें यहां आपको आरएसएस जॉइन कैसे करें के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारियां प्रदान की गई हैं|

दुनिया में कितने धर्म है
राम मंदिर कैसा था
दुनिया में कुल कितने मुस्लिम देश है

आरएसएस क्या है (RSS Kya Hai in Hindi)

RSS Join Kaise Kare

RSS एक संगठन है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना विजयदशमी के दिन 27 सितंबर 1925 को किया गया था| इस संगठन के संस्थापक केशव राव बलिराम हेडगेवार है इसका मुख्यालय नागपुर महाराष्ट्र में स्थित है इसका ध्वज भगवा ध्वज है|

आरएसएस भारत का एक दक्षिण पंथी हिंदू राष्ट्रवादी अर्ध सैनिक स्वयंसेवी समूह है जिसको आमतौर पर देश की वर्तमान सत्ताधारी पार्टी का पत्रक संगठन माना जाता है|

बीबीसी का दावा है कि आरएसएस दुनिया का सबसे बड़ा स्वदेशी संगठन है| इसका मुख्य उद्देश्य भारत को विश्व शक्ति और सर्वोच्च बनाना है इस संघ का निर्माण खोए हुए संस्कार और अपने बच्चों को हिंदू संस्कार देना है| इस संघ परिवार में अनेक संगठन शामिल हैं जिनमें बजरंग दल, भारतीय जनता पार्टी, विश्व हिंदू परिषद, अखिल भारतीय विद्यार्थी, परिषद और मजदूर संघ प्रमुख है भारत में आरएसएस के कई स्कूलों और कॉलेज है|

संविधान क्या है
भारत में कितनी भाषा बोली जाती है

आरएसएस का इतिहास  (History of RSS)

दुनिया के सबसे बड़े स्वयंसेवी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अर्थात रस की स्थापना का श्रेय केशव राम बलिराम हेडगेवार को जाता है| हेडगियर का जन्म वर्ष 1879 में हुआ था हेड जेवर पैसे से एक डॉक्टर थे उनके अंदर बचपन से ही अंग्रेजों द्वारा किए जाने वाले अत्याचार के प्रति आक्रोश और अपने देश के लिए आगे बढ़कर कुछ करने का जज्बा था केशव जी दामोदर सावरकर के हिंदुत्व से बहुत ही प्रभावित थे और उन्हें यह एहसास हुआ कि एक ऐसी संस्था होनी चाहिए जो समाज के सभी वर्गों को जोड़कर एक सशक्त समाज का निर्माण कर सके|

इसी आधार पर हेड गेवर जी ने नागपुर में 27 सितंबर 1925 को विजयादशमी के शुभ दिन पर कुछ युवाओं को एकत्र कर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना की इसके पश्चात वह प्रतिदिन नियमित रूप से शाखा लगने लगी जिसमें प्रार्थना खेल जैसी गतिविधियों होने लगी इसी प्रकार धीरे-धीरे यह शाखाएं पूरे शहर और फिर पूरे देश में फैल गई और वर्तमान समय में देश के प्रत्येक राज्य और शहर में संघ का प्रभाव देखा जा सकता है|



RSS का काम क्या है?

आरएसएस भारतीय दलित और प्रजातंत्र मुक्ति संगठन का संक्षिप्त रूप है और यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का विचलन संगठन है आरएसएस का गठन जुलाई 1925 में नागपुर महाराष्ट्र में हुआ था और केशव बलिराम है गढ़वाल ने इसे स्थापित किया था|

इसकी स्थापना का मुख्य उद्देश्य भारतीय समाज को समर्पित सट्टा समर सत्ता और समर्पण के माध्यम से एकता और राष्ट्रीय एकता को प्रमोट करना है|

रस एग्जाम से भी संगठन है जो भारतीय संस्कृति, संस्कृति, शिक्षा, स्वास्थ्य और समाज क्षेत्र में कई कार्यक्रम आयोजित करता है यह स्वयं सेवी कार्यक्रम जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य चिकित्सा, सांस्कृतिक कार्यक्रम, ग्रामीण विकास, वन संरक्षण, जल संरक्षण, स्वच्छता अभियान और अन्य गतिविधियों के माध्यम से देश की सेवा करता है| आरएसएस के सदस्य राष्ट्रीय सेवा को अपना उद्देश्य मानते हैं और समरसत्ता और समर्पण के माध्यम से राष्ट्रीय एकता को प्रभावित करने का कार्य करते हैं आरएसएस के सदस्य आदर्श ग्रहण करते हैं और अपने जीवन को नैतिक मूल्य सामाजिक उद्देश्यों और राष्ट्रीय धर्म के साथ समर्पित करते हैं|

आरएसएस प्रचारक लिस्ट (RSS Promotional List)

क्रम स०नामवर्ष
1.डॉक्टर केशवराव बलिराम हेडगेवार1925 से  1940
2.माधव सदाशिवराव गोलवलकर1940 से 1973
3.मधुकर दत्तात्रय देवरस1973 से  1993
4.प्रोफ़ेसर राजेंद्र सिंह उपाख्य रज्जू भैया1993 से  2000
5.कृपाहल्ली सीतारमैया सुदर्शन2000 से  2009
6.डॉ॰ मोहनराव मधुकरराव भागवत2009 से  अब तक

आरएसएस जॉइन कैसे करें – RSS Join Kaise Kare

यदि आप आरएसएस जॉइन करना चाहते हैं तो नीचे आपको आरएसएस जॉइन कैसे करें के बारे में स्टेप बाय स्टेप जानकारियां प्रदान की गई है|

  • सबसे पहले आपको आरएसएस की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज ओपन होगा|
RSS Join Kaise Kare
  • अब आपको Join RSS का ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करें|
  • अब आपके सामने एक Registration Form खुलकर आएगा|
Registration Form
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको अपनी कुछ बेसिक डीटेल्स के साथ-साथ कुछ अन्य जानकारी को भी दर्ज करना होगा जैसे- अपना नाम, आयु, क्षेत्र, जिला, राज्य, वर्तमान पता, स्थाई पता आदि|
  • इसके बाद आपको कैप्चा कोड दर्ज करना होगा|
RSS Join Kaise Kare
  • कैप्चा कोड दर्ज करने के बाद Submit बटन पर क्लिक करें|
  • अब कुछ दिनों बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आएगा इस मैसेज के माध्यम से जॉइनिंग लेटर प्रदान कर दिया जाएगा|
  • इसके बाद आप अपनी नजदीकी शाखा पर जाकर अपना आईडी कार्ड ले सकते हैं|

FAQ’s

आरएसएस के संस्थापक कौन हैं?

केशव ओम बलिराम हेडगेवार|

भारत में आरएसएस क्या है?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) जिसे संघ के नाम से भी जाना जाता है| भारत में एक दक्षिणपंथी हिंदू राष्ट्रवादी अर्ध सैनिक स्वयंसेवक और कथित रूप से उग्रवादी संगठन है|

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना कब हुई?

27 सितंबर 1925 को नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना हुई|

Leave a Comment