DM Ko Application Kaise Likhe :जिला अधिकारी को एप्लीकेशन कैसे लिखें

DM Ko Application Kaise Likhe: यदि आप अपने जिले के जिलाधिकारी को किसी भी समस्या या शिकायत चाहे में जमीन विवाद हो या लड़ाई झगड़ा हो पानी से संबंधित कोई समस्या हो स्कूल से संबंधित समस्या खेल से संबंधित आदि किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या है| उसको आप जिलाधिकारी को अवगत कराना चाहते हैं तो तो आप शिकायत पत्र के माध्यम से जिला अधिकारी को अपनी समस्या से अवगत करा सकते हैं| यदि आप अपने किसी भी समस्या को जिलाधिकारी को शिकायत पत्र के माध्यम अवगत कराना चाहते हैं और आपको शिकायत पत्र लिखने के बारे में जानकारी नहीं है या आप शिकायत पत्र लिखना नहीं जानते हैं तो हमारे लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें क्योंकि इस लेख के माध्यम से हमने आपको DM Ko Application Kaise Likhe के बारे में बताएंगे|

DM Ko Application Kaise Likhe

डीएम का मतलब डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट जिसे हम जिला अधिकारी भी कहते हैं अगर अगर आपका कोई कार्य तहसील ,थाना ,कोट,कचहरी, यानी किसी भी विभाग में नहीं हो पा रहा है तो आप जिलाधिकारी को एप्लीकेशन कैसे लिखे (DM ko Application Kaise likhe) ये हम आपको नीचे बताने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप अपने जिले के [DM ko Application] जिलाधिकारी को एप्लीकेशन लिख पाएंगे।

Advance Salary Application Kaise Likheमोबाइल चोरी की शिकायत पत्र कैसे लिखेमुख्यमंत्री को पत्र कैसे लिखे

Sample – 1 डीएम को सड़क निर्माण के लिए आवेदन पत्र

सेवा में,

श्रीमान जिलाधिकारी महोदय



रानीवाड़ा रोड सांचौर (राजस्थान)

विषय सड़क निर्माण हेतु आवेदन पत्र

माननीय कारी महोदय जी,

7:00 एम प्रकार है कि मेरा नाम अभिषेक कुमार है मैं राजस्थान संजय और गांव का रहने वाला हूं मैं आपका ध्यान इस समस्या की ओर केंद्रित करना चाहता हूं कि हमारे गांव की गलियों में अभी तक सड़क के निर्माण नहीं हो पाया है| कुछ लोग गली का निरीक्षण करने आए थे लेकिन उन्होंने कोई काम नहीं किया और गांव के प्रधान भी इस समस्या पर कुछ खास ध्यान नहीं दे रहे हैं|

अतः श्रीमान जी से विनम्र निवेदन है कि हमारे गांव की गलियों की सड़क बनवाने की कृपा करें इसके लिए हम सभी ग्रामवासी सदैव आपके आभारी रहेंगे|

धन्यवाद

भवदीय

नाम अभिषेक कुमार

ग्राम सांचौर राजस्थान

मोबाइल नंबर 78XXXXXX06

दिनांक

ये भी पढ़ेप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मोबाइल नंबर
ये भी पढ़ेOnline FIR Kaise Kare

Sample 2- जिला कलेक्टर को अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु प्रार्थना पत्र

सेवा में,

श्रीमान जिलाधिकारी महोदय

विषय अपराध पर अंकुश लगाने हेतु

महोदय,

सविनय बेकार है कि मेरा नाम संजय कुमार है मैं आपके जिले के छोटे से गांव खवासपुरा का निवासी हूं मैं एक समाज सेवक हूं| आज मैं आपको हमारे गांव में बढ़ रहे अपराधों के बारे में बताना चाहता हूं श्रीमान 3 माह से हमारे गांव में अपराधों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है प्रतिदिन चोरी चकारी लूटमार हो रही है लेकिन पुलिस प्रशासन इस और कुछ खास ध्यान नहीं दे रहा है|

इस कारण ग्राम वासियों में काफी रोष है बहुत गरीब लोगों की जीवन भर की कमाई लूट ली गई है और कई ऐसे लोग हैं जिनको धमकी देकर परेशान किया जा रहा है|

अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि पुलिस प्रशासन को अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु सख्त निर्देश दिए जाएं ताकि जल्द से जल्द गांव के लोगों को राहत मिल सके|

धन्यवाद

आपका विश्वासी

संजय कुमार

विकास पुरा जिला जयपुर

मोबाइल नंबर 93XXXXXX34

ये भी पढ़े बिजली मीटर बदलने के लिए एप्लीकेशन कैसे लिखे
ये भी पढ़ेजमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाएं

Sample 3- डीएम को लेखपाल द्वारा रिश्वत मांगने के संबंध में प्रार्थना पत्र

सेवा में,

जिलाधिकारी

लक्ष्मी नगर बुलंदशहर

विषय लेखपाल द्वारा रिश्वत मांगने के संबंध में

माननीय जिलाधिकारी महोदय जी,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं संजीव कुमार लक्ष्मी नगर बुलंदशहर का निवासी हूं हमारे क्षेत्र के लेखपाल कुलदीप जी है मैं अपने पिता के नाम की जमीन का वरासत करवा कर अपने नाम कराना चाहता हूं जिसके लिए मैं लगभग 2 महीने से लेखपाल साहब के चक्कर लगा रहा हूं और लेखपाल कुलदीप के द्वारा रिश्वत के रूप में ₹5000 की मांग की जा रही है जो कि मैं इतने पैसे देने में असमर्थ हूं

अतः आपसे निवेदन है कि इन जैसे भ्रष्ट कर्मचारियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करें जिससे इन भ्रष्ट कर्मचारियों की मनमानी खत्म हो सके हम सब सदैव आपके आभारी रहेंगे

धन्यवाद

भवदीय

संजीव कुमार

पता लक्ष्मी नगर बुलंदशहर

मोबाइल नंबर – 75xxxxxx34

दिनांक

ये भी पढ़े थाने में एफ आई आर दर्ज कैसे करे
ये भी पढ़ेयूपी ग्राम प्रधान की सूची

DM को प्रार्थना पत्र लिखते समय ध्यान रखने योग्य बातें

  • अपना पूरा नाम पता और मोबाइल नंबर अवश्य लिखें ।
  • प्रार्थना पत्र में विषय जरूर लिखें ताकि जिलाधिकारी तुरंत आपकी समस्या को समझ सके ।
  • जिस विभाग या व्यक्ति के बारे में आप शिकायत कर रहे हैं उसकी पूरी जानकारी प्रार्थना पत्र में अवश्य लिखें ।
  • ऐसी कोई शिकायत है जिसके साथ प्रमाण की आवश्यकता हो तो प्रार्थना पत्र के साथ वह प्रमाण सलंग्न करना ना भूलें ।
  • एप्लीकेशन लिखने के बाद एक बार पुनः पढ़ ले क्योंकि प्रार्थना पत्र में अनावश्यक त्रुटि नहीं होनी चाहिए।
  • जब भी आप प्रार्थना पत्र में शिकायत लिखे तो स्पष्ट और कम शब्दों में लिखने का प्रयास करें ।

FAQ’s

DM को हिंदी में क्या कहते हैं?

DM हिंदी में जिलाधिकारी कहते हैं|

डीएम कैसे बनते हैं?

डीएम जिला अधिकारी बनने के लिए आपको यूपीएससी द्वारा आयोजित की जाने वाले आईएएस के एग्जाम को आपको क्वालीफाई करना होता है जिसके बाद आप आईएस बन सकते हैं।

DM से शिकायत कैसे करें?

आप डीएम को ऑनलाइन शिकायत भी कर सकते हैं ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने हेतु सर्वप्रथम आपको अपने मोबाइल या लैपटॉप में यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट https://jansunwai.up.nic.in को विजिट करना होगा।

Leave a Comment