राष्ट्रपति को पत्र कैसे लिखे – अपनी बात डायरेक्ट राष्ट्रपति को भेजे

राष्ट्रपति को पत्र कैसे लिखे – दोस्तों क्या आप जानते हैं कि आपके ज्ञान की जानकारी आपके लेखन शैली से की जा सकती है आपको किसी भी प्रकार का पत्र आदि लिखने के लिए अच्छे लेखन शैली प्रयोग करना चाहिए यदि आपको राष्ट्रपति को पत्र लिखना है तो आप की लेखन शैली मुख्य भूमिका निभाती है आज हम अपने लेख के माध्यम से आपको राष्ट्रपति को पत्र लिखने के बारे में सभी जानकारियां प्रदान करेंगे हम आपको बताएंगे कि पत्र क्या है, इसके प्रकार, पत्र लिखने के तरीके, पत्र के अंग, राष्ट्रपति से शिकायत करने के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया क्या है, भारत देश के राष्ट्रपति को पत्र लिखने का तरीका Example of Letter President  आदि| यह सभी जानकारियां जाने के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहें|

पत्र क्या है

चिट्ठी या खत किसी कागज या अन्य माध्यम पर लिखे संदेश को पत्र कहा जाता है| 19वीं और 20वीं शताब्दी में पत्र दो व्यक्तियों के बीच संचार का सबसे विश्वसनीय माध्यम था पत्र किसी भी सूचना को एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचाने का सबसे अच्छा माध्यम होता है| लेकिन अब टेलीफोन, स्मार्टफोन आदि से इसकी भूमिका बहुत कम हो गई है पत्रों का हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण स्थान रहा है|

Types of Letter (पत्र के प्रकार)

पत्र दो प्रकार के होते हैं|

  1. Hard Copy में लिखा गया पत्र|
  2. Web Page पर लिखा इलेक्ट्रॉनिक पत्र|
  3. Hard Copy में लिखा गया पत्र|

कलम और कागज की सहायता से लिखा गया पत्र हार्ड कॉपी पत्र कहलाता है

Web Page पर लिखा इलेक्ट्रॉनिक पत्र

वर्तमान समय में वेब पेज पर जो पत्र लिखा जाता है उस पत्र को ई- मेल यानी इलेक्ट्रॉनिक पत्र कहा जाता है इलेक्ट्रॉनिक पत्र भेजने के लिए इंटरनेट की आवश्यकता होती है| इसमें हार्ड कॉपी पत्र की तरह कागज और कलम की आवश्यकता नहीं होती है|

राष्ट्रपति को पत्र कैसे लिखे
भारत में राष्ट्रपति की शक्तियां और कार्य hindi me
वर्तमान में भारत के प्रधानमंत्री कौन है

पत्र लिखने के तरीके – राष्ट्रपति को पत्र कैसे लिखे

  • राष्ट्रपति को पत्र लिखते समय आप सबसे पहले उनको महामहिम के नाम से संबोधित करेंगे|
  • अब आपको विषय लिखकर संबोधित मूल बात का विवरण या शीर्षक देना है जिसके पत्र पढ़ने से पहले ही उसके विषय में जानकारी प्राप्त हो सके|
  • इसके बाद आपको महोदय लिखना है और अपनी समस्या सुझाव के बारे में डिटेल में लिखना है आपकी बात में किसी भी बात का दोहराव ना हो यदि दोहराव हुआ तो आपका पत्र अधिक लंबा हो जाएगा|
  • अपनी बात पूरी लिखने के बाद धन्यवाद अवश्य लिखें|
  • अब भवदीय लिखें और अपने बारे में जानकारी दें यानी नाम, पता आदि लिखें|
  • अब दिनांक डालें|
  • दिनांक डालने के बाद अपने हस्ताक्षर करें|
  • अंत में आपको स्थान के विषय में जानकारी देनी होती है|

पत्र के अंग

  • संबोधन
  • अभिवादन
  • विषय
  • पत्र की सामग्री यानी अपनी समस्या या अपनी बात
  • नाम और पता
  • दिनांक
  • स्वयं के हस्ताक्षर

ऑनलाइन कांटेक्ट हेल्पलाइन नंबर


इंडिया की प्रेसिडेंट श्रीमती प्रतिभा पाटिल जी ने वर्ष 2007 में लोगों के लिए राष्ट्रपति सचिवालय से संपर्क करने के लिए एक ऑनलाइन सेवा की शुरुआत की थी| जिसके माध्यम से लोग अपने मन की बात उसे ऑनलाइन सेवा के माध्यम से राष्ट्रपति को पत्र पहुंच सके| इस ऑनलाइन सेवा के शुरू होने के बाद लोगों के लिए अपनी बात राष्ट्रपति तक पहुंचाना और भी आसान हो गया आगे हम आपके आवेदन पत्र भरकर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू तक अपनी बात या फिर शिकायत ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं|



राष्ट्रपति से शिकायत करने के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • राष्ट्रपति से शिकायत करने के लिए सबसे पहले President Of India Helpline Website पर जाएं|
  • वेबसाइट ओपन होने के बाद आपको Link दिखाई देगा|
  • अब आपके सामने एक New Page Open होगा इस पेज में आपको एक फॉर्म भरना होगा|
  • फॉर्म मै पूछी गई सभी Detail आपको ध्यान पूर्वक भरनी है|
  • इस फॉर्म में अपना नाम, पता, पासवर्ड, पिन कोड, देश का नाम, राज्य का नाम, मोबाइल नंबर और ईमेल एड्रेस भरे|
  • फॉर्म में आप नंबर पर अपनी Complaint के बारे में Detail में लिखें आप 400 अक्षर तक अपनी कंप्लेंट लिख सकते हैं|
  • अब आपको दिखाई देगा उसको भरे|
  • और अब Submit Button पर Click करके Submit करें|

Example of Letter To The President

सेवा में,

महामहिम राष्ट्रपति

भारत गणराज्य राष्ट्रपति भवन

विषय- (अपनी समस्या का संक्षेप में विवरण करें)

महोदय,

विनम्र निवेदन है कि मैं ‘कुमारी शीतल’ (अब अपनी शिकायत का विवरण करें) अब आप अपनी पूरी बात बताएं यदि आप अपना कोई दस्तावेज इस पत्र के साथ सलंग्न करना चाहते हैं तो पत्र में वह भी बताएं और अंत में सहायता प्रदान करने के उपरांत धन्यवाद अवश्य दें|

धन्यवाद

भवदीय

पदाधिकारी का नाम…………….

संगठन का नाम……………..

संगठन का पता………………..

फोन

दिनांक

हस्ताक्षर

FAQ’s

राष्ट्रपति को शिकायत पत्र कैसे लिखा जाता है?

राष्ट्रपति के समक्ष अपनी शिकायत या अनुरोध दर्ज करवाने के लिए राष्ट्रपति सचिवालय के अंतर्गत अपना पंजीकरण करवाना होता है|

भारत के राष्ट्रपति को पत्र कहां भेजें?

केंद्रीय रजिस्ट्री अनुभाग राष्ट्रपति सचिवालय राष्ट्रपति भवन नई दिल्ली 110004 पर आप राष्ट्रपति को पत्र भेज सकते हैं|

भारत के राष्ट्रपति का पूरा नाम क्या है?

द्रौपदी मुर्मू

राष्ट्रपति को शपथ कौन दिलाता है?

भारत के मुख्य न्यायाधीश द्वारा राष्ट्रपति को शपथ दिलाई जाती है|

Leave a Comment