भारत का प्रधानमंत्री कैसे चुना जाता है? 2024 योग्यता, वेतन, कार्य एवं अधिकार|

Pradhanmantri Ka Chunav Kaise Hota Hai: आज के लेख के अंतर्गत हम आपको प्रधानमंत्री का चुनाव कैसे होता है के बारे में सभी जानकारियां प्रदान करने वाले हैं क्योंकि प्रधानमंत्री पद एक बहुत ऊंचा पद होता है| भारतीय संस्कृति व्यवस्था में राष्ट्रपति केवल नाम मात्र का कार्यकारी प्रमुख होता है| जबकि वास्तविक कार्यकारी शक्तियां प्रधानमंत्री में शामिल होती है यानी राष्ट्रपति राज्य का प्रमुख होता है जबकि प्रधानमंत्री सरकार का प्रमुख होता है|

सरकार की संसदीय व्यवस्था के अनुसार राष्ट्रपति लोकसभा में बहुमत प्राप्त दल के नेता को प्रधानमंत्री नियुक्ति करता है| लेकिन अगर लोकसभा में किसी दल को बहुमत नहीं मिलता है तो ऐसे में राष्ट्रपति अपने विवेक का इस्तेमाल कर सकता है लेकिन ऐसी स्थिति में होता यह है कि राष्ट्रपति सामान्यतः सबसे बड़े दल या गठबंधन के नेताओं को नियुक्त करता है और उसे एक माह के अंदर सदन में विश्वास मत हासिल करने के लिए कहता है| यदि आप भी Pradhanmantri Ka Chunav Kaise Hota Hai के बारे में सभी जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे लेख को अंत तक जरूर पढ़ें| क्योंकि इस लेख के अंतर्गत आपको प्रधानमंत्री क्या होता है, प्रधानमंत्री के लिए योग्यता, कार्य और अधिकार एवं वेतन आदि के बारे में भी जानकारियां प्रदान की गई है|

वर्तमान में भारत के प्रधानमंत्री कौन है
प्रधानमंत्री फ्री सिलाई मशीन योजना 
प्रधानमंत्री से शिकायत कैसे करें

प्रधानमंत्री क्या होता है?

भारत की लोकतांत्रिक संरचना संसदीय प्रणाली पर आधारित है भारत विभिन्न संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ने के बाद जीतने के वाले सांसद बन जाते हैं| जब एक दल देश में लोकसभा चुनाव के माध्यम से संसद में बहुमत हासिल कर लेता है तो राष्ट्रपति स्वयं उस दल को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करता है इसी के आधार पर बहुमत वाले दल के नेता को प्रधानमंत्री नियुक्त किया जाता है|

Pradhanmantri Ka Chunav Kaise Hota Hai

प्रधानमंत्री बनने की चुनाव प्रक्रिया – Pradhanmantri Ka Chunav Kaise Hota Hai

लोकसभा चुनाव के लिए वोट डालने वाले मतदाता प्रधानमंत्री का चुनाव सीधे नहीं करते भारत के चुनाव प्रक्रिया ब्रिटिश चुनाव प्रक्रिया के समान है| इस प्रक्रिया के अनुसार प्रधानमंत्री सरकार का सर्वेसर्वा  होता है और वह लोकसभा के सदस्यों द्वारा चुना जाता है|

देश के मतदाता केवल लोकसभा के सदस्यों का ही चुनाव करते हैं भारत की लोकसभा में 545 सदस्य होते हैं| जिनमें से 543 चुनाव प्रक्रिया द्वारा चुने जाते हैं जबकि दो सदस्यों को भारत का राष्ट्रपति मनोनीत करता है|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना
प्रधानमंत्री जन धन योजना

भारत के प्रधानमंत्री पद की योग्यता

भारत का प्रधानमंत्री बनने के लिए योग्यताओं के बारे में नीचे बताया गया है|

  • व्यक्ति भारतीय नागरिक होना चाहिए|
  • व्यक्ति को प्रधानमंत्री बनने के लिए लोकसभा या राज्यसभा में से किसी एक सदन का सदस्य होना अनिवार्य है यदि कोई व्यक्ति जो लोकसभा का सदस्य नहीं है और प्रधानमंत्री के पद परनियुक्त किया जाता तो उसको 6 महीने के अंदर लोकसभा का सदस्य होना पड़ता है|
  • वोटर कार्ड लिस्ट में व्यक्ति का नाम होना चाहिए|
  • यदि कोई व्यक्ति लोकसभा का सदस्य है तो उसकी आयु 25 वर्ष से काम नहीं होनी चाहिए|
  • यदि कोई व्यक्ति राज्यसभा का सदस्य है तो उसकी आयु 30 वर्ष से काम नहीं होनी चाहिए|
  • यदि कोई व्यक्ति किसी सरकारी पद पर कार्यरत है तो वह देश का प्रधानमंत्री बनने की योग्यता नहीं रख सकता है|

प्रधानमंत्री का कार्यकाल कितना होता है?

प्रधानमंत्री का कार्यकाल सामान्यतः 5 वर्ष का होता है प्रधानमंत्री का कार्यकाल निश्चित नहीं है बल्कि वास्तव में प्रधानमंत्री राष्ट्रपति के प्रसाद पर्याप्त पद पर बने रहते हैं|



इसका मतलब यह है नहीं हुआ कि राष्ट्रपति अपनी इच्छा से प्रधानमंत्री को हटा देंगे बल्कि इसकी एक सीमा होती है|

प्रधानमंत्री के कार्य एवं अधिकार (Prime Minister Works and Rights)

  • प्रधानमंत्री अपने विवेक अनुसार मंत्रिमंडल का गठन करता है और इसके लिए वह अपने अनुसार सूची बनाकर देश के राष्ट्रपति के समक्ष उसे प्रस्तुत करता है|
  • किसी सदस्य को कौन सा मंत्रालय आवंटित करना है और आवंटन में बदलाव पर प्रधानमंत्री ही इस पर निर्णय लेता है|
  • प्रधानमंत्री की सलाह पर ही राष्ट्रपति मंत्रिमंडल के मंत्री को नियुक्त करता है साथ ही बर्खास्त भी कर सकता है|
  • मंत्रिमंडल या परिषद का अध्यक्ष प्रधानमंत्री ही होता है और सभी फसलों पर प्रधानमंत्री का प्रभाव हो सकता है|
  • प्रधानमंत्री अपने मंत्रिमंडल को अनुशासित और निर्देशित करता है|
  • प्रधानमंत्री अपने इस्तीफा या त्यागपत्र के साथ राष्ट्रपति को लोकसभा भंग करने की सलाह दे सकता है|
  • प्रधानमंत्री की अकाल मृत्यु या इस्तीफा से सरकार गिर जाती है जबकि अन्य सदस्य के लिए उपचुनाव किया जाता है|

प्रधानमंत्री की नियुक्ति

बहुमत वाले दल के नेता को ही प्रधानमंत्री के रूप में घोषित किया जाता है लेकिन प्रधानमंत्री की नियुक्ति देश के राष्ट्रपति के द्वारा की जाती है| मंत्रिमंडल के गठन से पहले देश के प्रधानमंत्री की नियुक्ति की जाती है और इसके बाद ही प्रधानमंत्री की सलाह पर राष्ट्रपति द्वारा मंत्रिमंडल के सदस्यों की नियुक्ति की जाती है|

Prime Minister Salary (प्रधानमंत्री का वेतन )

प्रधानमंत्री का अलग से वेतन नहीं होता है बल्कि जो संसद सदस्यों को वेतन भत्ते प्राप्त होते हैं वही वेतन भत्ते प्रधानमंत्री प्राप्त करता है|

लेकिन प्रधानमंत्री को कुछ अतिरिक्त व्यय भत्ते मिलते हैं जैसे- मुफ्त आवास, यात्रा भत्ते, स्वास्थ्य सुविधाएं आदि प्रधानमंत्री के वेतन को संसद द्वारा तय किया जाता है|

FAQ’s

भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री कौन थी

भारत की पहली और एकमात्र महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थी|

दुनिया में नंबर वन प्रधानमंत्री कौन है?

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी दुनिया के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री बनकर उभरे हैं|

प्रधानमंत्री को वोट कौन देता है?

संसद के सदस्य प्रधानमंत्री का चुनाव करते हैं|

सबसे अधिक उम्र के प्रधानमंत्री कौन थे?

भारत में सबसे अधिक उम्र के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह थे|

Leave a Comment