लीगल नोटिस क्या होता है ? नोटिस कितने प्रकार के होते हैं, लीगल नोटिस कैसे भेजा जाता है ?

Legal Notice Kya Hota Hai: दोस्तों आप सभी ने कभी ना कभी लीगल नोटिस (Legal Notice) के बारे में जरूर सुना होगा आज के लेख में हम इसी विषय पर चर्चा करेंगे आप जानते होंगे कि लीगल नोटिस किसी व्यक्ति या संस्था से बात करने का एक Formal या Legal तरीका होता है इस Legal Notice के द्वारा व्यक्ति या संस्था को उनके अगेंस्ट हो रही लीगल प्रोसीडिंग्स के आपके इरादे के बारे में बताया जाता है लीगल कार्रवाई तभी की जा सकती है जब लीगल नोटिस दिया गया हो लीगल नोटिस भेजने के बाद ही दूसरी पार्टी को आपके द्वारा फाइल की गई Complain और कोर्ट जाने की आपकी Intention के बारे में बताया जाता है इसलिए आपको लीगल नोटिस के बारे में जानकारी होनी चाहिए|

यदि आप Legal Notice के बारे में नहीं जानते हैं तो आज के लेख में हम आपको बताएंगे लीगल नोटिस क्या होता है लीगल नोटिस से संबंधित संपूर्ण जानकारियां प्राप्त करने के लिए हमारे लेख को जरूर पढ़ें इससे आपको इस विषय से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त होगी

लीगल नोटिस क्या होता है (Legal Notice Kya Hota Hai)

यदि आप जानना चाहते हैं कि लीगल नोटिस होता क्या है तो आपको बता दें कि लीगल नोटिस वह कानूनी चेतावनी होती है जो किसी भी व्यक्ति या संगठन के खिलाफ किसी भी शर्त को मानने या फिर कानूनी कार्यवाही करने के लिए दी जाती है इस नोटिस से विपक्षी पार्टी को बताया जाता है कि जो भी गलत कार्य नियमों की अवहेलना आप कर रहे हैं| अगर आप नहीं मानते तो आपके ऊपर कानूनी कार्यवाही की जाएगी बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो इस को कानूनी धमकी भी समझ लेते हैं लेकिन यह कोई धमकी नहीं होती है Section 18 आईपीसी की धारा में Legal Notice को कानूनी अधिकार के रूप में दर्शाया गया है|

किसी भी प्रकार का लीगल नोटिस प्राप्त होने पर एक निश्चित समय के अंदर उसका जवाब देना होता है पहले Legal Notice पत्रों के माध्यम से भेजे जाते थे लेकिन अब Email के द्वारा भी लीगल नोटिस भेजे जाते हैं ई-मेल के माध्यम से लीगल नोटिस का जवाब भी दिया जा सकता है आपको इसके लिए कोर्ट यह किसी भी एडवोकेट की आवश्यकता नहीं होती है कभी-कभी सरकार के द्वारा भेजा गया लीगल नोटिस को भी रद्द करना पड़ता है जैसे पिछले दिनों यूपी सरकार के द्वारा CAA प्रदर्शनकारियों को भेजें गए नोटिस को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द करने के आदेश दिए थे|



ये पढ़े – Judge Kaise Bane
ये पढ़े – मुख्यमंत्री को पत्र कैसे लिखे
Legal Notice Kya Hota Hai

Legal Notice का मकसद

Legal Notice एक प्रकार की चेतावनी होती है जो दूसरी पार्टी को भेजी जाती है जब आपका काम समय के अंदर पूरा नहीं होता यह एक तरह से आपकी Intention दूसरी पार्टी को देती है समझाने के लिए की यदि आप यह काम समय पर पूरा नहीं करते हैं तो क्या हो सकता है|

लीगल नोटिस क्यों भेजा जाता है

लीगल नोटिस भेजने के कई कारण हो सकते हैं जैसे किसी भी चेक के बाउंस होने पर बैंक लोन का Repayment ना करने पर या फिर किसी भी नियमों व शर्तों को ना मानने पर लीगल नोटिस भेजे जा सकते हैं|

यदि आपको आर्थिक रूप से किसी की वजह से जानमाल कि अधिक हानि हुई हो तब भी कानूनी रूप से लीगल नोटिस भेजा जा सकता है|

लीगल नोटिस कैसे भेजा जाता है

लीगल नोटिस भेजने के लिए हम आपको कुछ स्टेप्स नीचे बताएंगे|

  • सबसे पहले आपको अपना लीगल नोटिस अपने परेशानी बयां कर के साथ भेजना होगा उसमें एक अंतिम समय होगा जो होगा 30 से 7 दिनों तक का अपनी परेशानी से निपटने का यह है रजिस्टर्ड पोस्ट के द्वारा भेजा जाता है|
  • Legal Notice भेजने के बाद उसकी एक कॉपी अपने पास Save रखें यह कॉपी आपको कोर्ट में दिखाने के काम आएगी|
  • जितने समय का Period दिया है उस समय तक का इंतजार करें|
  • जिसके खिलाफ केस भेजा है वह या तो इन दिनों के अंदर अंदर आपसे बात करेगा या फिर कोर्ट में आएगा यह केस सेटल करने के लिए|
Legal Notice Kya Hota Hai

Legal Notice Format में क्याक्या अनिवार्य है

  • Name and required information
  • Description
  • Place and residence of notice sender
  • Aspects of the effect
  • Demonetories relay claimed by the sender of the notice
  • Biggest of the legal bases for the Reliance Claimed
दल बदल कानून क्या है 
जमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाएं ?

लीगल नोटिस का ड्राफ्ट कैसे तैयार करें

  • आपको यह जानकारी अवश्य होनी चाहिए कि लीगल नोटिस का ड्राफ्ट कैसे तैयार किया जाता है इसके बारे में हम कुछ स्टेप्स बताएंगे ड्राफ्ट तैयार करते वक्त उनको फॉलो करें|
  • लीगल नोटिस बनाते समय सबसे पहले दिनांक लिख लीजिए|
  • आगे जिसको भी आप भेज रहे हैं उनका नाम और पता लिख लीजिए यदि 1 से अधिक लोगों को आप लीगल नोटिस भेजना चाहते हैं तो ऐसे में आप सीरियल नंबर से नाम और पता लिख लीजिए|
  • यदि आप किसी व्यक्ति के ऑफिस में लीगल नोटिस भेजना चाहते हैं तो ऑफिस का पता लिख लीजिए|
  • अब आप सब्जेक्ट में लीगल नोटिस क्यों भेजा जा रहा है इसे टाइटल के रूप में लिखें|
  • आप जिसे नोटिस भेजना चाहते हैं उसे संबोधित करते हुए अपनी बात लिखे मामले में जो भी आप की शर्ते हैं उनका पूरा विवरण भी आप उस नोटिस में लिखें|
  • कोई भी शर्त या बात ना मानने पर भरपाई का विवरण भी आप उस नोटिस में लिखे और साथ में कोर्ट में मामला जाने की बात भी लिखें|
  • अंत में आपको अपना नाम और पूरा पता लिखना होगा|
  • Legal Notice की प्रत्येक पेज पर अपने हस्ताक्षर करें|
  • डाक या फिर जिस प्रकार भी आप लीगल नोटिस भेज रहे हैं उसका विवरण भी अवश्य दें|

लीगल नोटिस भेजने के फायदे

  • लीगल नोटिस से भविष्य में संभावित मुकदमे बाजी से बचा जा सकता है दोनों पार्टियां अगर मिलजुल कर मामले को सुलझाएं तो लीगल नोटिस समाधान की ओर आपको ले जाता है|
  • लीगल नोटिस सबूतों को भी जुटाने का कार्य करता है क्योंकि विरोधी पक्ष आपके आरोपों को न करने के साथ-साथ कुछ अपनी तरफ से भी बात रखेगा|
  • लीगल नोटिस में लिखी गई बातें घटनाएं और तथ्य एक बार लिखने के बाद हटाई नहीं जा सकती है क्योंकि लीगल नोटिस अपने आप में एक मजबूत दस्तावेज होता है|
  • एडवोकेट Legal Notice बनाने से पहले प्रत्येक तथ्यों को जानते हैं जिससे सभी डॉक्यूमेंट या घटनाएं एक जगह एकत्रित हो जाती है ऐसे में अच्छे से नोटिस बना पाना आसान हो जाता है|

Conclusion

दोस्तों आज के आर्टिकल के अंतर्गत हमने आपको लीगल नोटिस क्या होता है से संबंधित सभी जानकारियां प्रदान की इस लेख के अंतर्गत हमने आपको बताया कि Legal Notice के लिए ड्राफ्ट कैसे तैयार करें और इस विषय से संबंधित सभी विस्तार पूर्वक जानकारियां हमने आपको प्रदान की उम्मीद है कि यह सभी जानकारियां आपको पसंद आई होगी| आज के लेख से आप भली-भांति जान गए होंगे कि लीगल नोटिस होता क्या है यदि आपको लीगल नोटिस से संबंधित सभी जानकारियां पसंद आई हो तो हमारे लेख को शेयर जरूर करें|

Leave a Comment