Tehsildar Kaise Bane – तहसीलदार बनने के लिए योग्यता, सैलरी, चयन प्रक्रिया पूरी जानकारी

तहसीलदार क्या होता है Tehsildar Kaise Bane इसके कार्य, योग्यता, आयु सीमा, वेतन, चयन प्रक्रिया तथा तहसीलदार बनने के लिए तैयारी कैसे करें जाने हिंदी में

दोस्तों वर्तमान समय में प्रत्येक व्यक्ति यही चाहता है कि पढ़ लिखकर वह सरकारी नौकरी करें इन्हीं में से कुछ विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो तहसीलदार बनना चाहते हैं| आपने अक्सर तहसीलदार का नाम सुना होगा लेकिन ऐसे बहुत कम लोग हैं जिनको तहसीलदार के बारे में सभी जानकारियां प्राप्त होती है| यदि आप भी उन्हीं लोगों में से हैं जो तहसीलदार के बारे में नहीं जानते हैं तो आज का हमारा आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद साबित होगा| क्योंकि आज के आर्टिकल में आपको Tehsildar Kaise Bane के बारे में सभी जानकारियां प्रदान की जाएगी| इसके अतिरिक्त हम आपको तहसीलदार क्या होता है, इसके कार्य क्या है, योग्यता, आयु सीमा, वेतन एवं चयन प्रक्रिया तथा तहसीलदार बनने के लिए तैयारी कैसे करें आदि सभी जानकारियां जाने के लिए हमारे आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें|

तहसीलदार क्या होता है

यदि आप जाना चाहते हैं कि तहसीलदार क्या होता है तो हम आपको बता दें कि किसी तहसील के प्रभारी अधिकारी को तहसीलदार कहा जाता है| बहुत से राज्यों में इनको तालुकदार भी कहा जाता है| राजस्व प्रशासन में एक प्रमुख अधिकारी होता है इस कारण इनको कर- अधिकारी भी कहा जाता है| सरकार द्वारा तहसीलदार को एक तहसील मिलता है इसे तहसील में इनको राजस्व संग्रहण और पर्यवेक्षण जैसे कई सरकारी काम करने होते हैं| एक तहसीलदार के नीचे बहुत से सहायक अधिकारी कार्य करते हैं इन सहायक अधिकारी को उप- तहसीलदार नायब तहसीलदार कहा जाता है|

Tehsildar Kaise Bane

  • यदि आप तहसीलदार बनना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करनी होगी|
  • इसके बाद आप किसी भी विषय से ग्रेजुएशन को पूरा करें|
  • Graduation Clear करने के बाद तहसीलदार भर्ती के लिए Online Apply करें|
  • सभी राज्य सरकार इस समय समय पर की भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी करती रहती है|
  • जब Notification के जरिए आपको पता चले कि Tehsildar Vacancy निकलती है उस समय आवेदन करें|
  • Application Form भरने के बाद Exam Clear करें|
  • राज्य लोक सेवा आयोग तहसीलदार की भर्ती के लिए सिविल सर्विस एग्जाम आयोजित करती है|
  • राज्य लोक सेवा आयोग तहसीलदार की भर्ती के लिए 3 चरणों में परीक्षा आयोजित करती है|
  • सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा होती है यह लिखित परीक्षा होती है इस परीक्षा में ऑब्जेक्टिव प्रश्न आते हैं|
  • प्रारंभिक परीक्षा पास करने के बाद मुख्य परीक्षा होती है इसमें व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं|
  • उसके बाद साक्षात्कार होता है साक्षात्कार के लिए मुख्य परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थी को ही बुलाया जाता है|
  • यदि आप साक्षात्कार को पास कर लेते हैं तो उसके बाद मेरिट बनती है| इस मेरिट के आधार पर ही तहसीलदार की नियुक्ति होती है|
Judge Kaise Bane
DM Kaise Bane 
Tehsildar Kaise Bane

तहसीलदार बनने के लिए योग्यता

  • यदि आप तहसीलदार बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अच्छे अंको से 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होना होगा|
  • इसके बाद आपको किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से किसी भी Stream से Graduation पूरा करें|
  • ग्रेजुएशन में आपके 50 या 55% अंक होने अनिवार्य है|
  • तहसीलदार बनने के लिए उम्मीदवार के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होना अनिवार्य है|
  • इसके अलावा उम्मीदवार को बेसिक कंप्यूटर और राज्य की अधिकारिक क्षेत्रीय भाषा का ज्ञान होना चाहिए|

आयु सीमा (Age Limit)

  • तहसीलदार बनने के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए|
  • ओबीसी वर्ग वाले अभ्यर्थियों को आयु सीमा में 3 वर्ष छूट दी गई है|
  • एससी एसटी वर्ग वाले अभ्यर्थियों की आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई|

तहसीलदार के कार्य

  • तहसीलदार का कार्य भूमि से संबंधित वे इससे जुड़े विवादों को सुनना है इनका निवारण करना है|
  • राजस्व का उचित संग्रह सुनिश्चित करना मावे का प्रबंधन तहसीलदार द्वारा किया जाता है|
  • तहसीलदार के प्रभारी के तहत जो भी सरकारी धन एकत्र किया जाता है उस धन की रक्षा करना एक तहसीलदार अधिकारी का कार्य होता है|
  • पटवारी द्वारा किए गए कार्यों का पर्यवेक्षण करना|
  • भूमि अभिलेख से संबंधित कई अलग-अलग प्रकार के कार्य करना|
  • तहसीलदार का कार्य सरकार के सभी मामलों की देखभाल करना और पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ जिम्मेदारी को निभाना होता है|
  • जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र आदि जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज तहसीलदार के हस्ताक्षर के हस्ताक्षर द्वारा ही मान्य होते हैं|

Tehsildar की  वेतन कितना होता है

यदि हम बात करें तहसीलदार के वेतन की तो एक नायब तहसीलदार का वेतन 9300 से लेकर 34,800 प्रतिमाह होता है और इसी के साथ ही नायाब तहसीलदार को ग्रेड पे 4800 रुपए होता है|



नायाब तहसीलदार का प्रमोशन होने के बाद जब वह तहसीलदार बनते हैं तो तहसीलदार का वेतन ₹15600 से लेकर 39100 प्रतिमाह तक होती है और इसी के साथ उनको ग्रेड पे 5400 रुपए मिलता है| साथ ही नायाब तहसीलदार और तहसीलदार के रूप में महंगाई भत्ता यात्रा भत्ता मकान किराया भत्ता चिकित्सा भत्ता पेंशन प्रदान किए जाते हैं|

तहसीलदार बनने के लिए तैयारी कैसे करें

  • तहसीलदार की परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए आपको सही तरीके से पढ़ाई करनी होगी इसके लिए आप अपना एक Time Table बनाए और उस टाइम टेबल के आधार पर ही पढ़ाई करें|
  • तहसीलदार की परीक्षा की तैयारी करने के लिए आपको करंट अफेयर और सामान्य ज्ञान पर अधिक ध्यान देना होगा| क्योंकि इस परीक्षा में इन दोनों विषयों से संबंधित सवाल अधिक पूछे जाते हैं|
  • प्रतिदिन दैनिक समाचार पत्र पढ़े और मुख्य मुद्दों पर ध्यान दें|
  • इसके अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाली घटनाओं की जानकारी रखें|
  • परीक्षा की तैयारी करने के लिए पुराने प्रश्न पत्रों को हल करने का प्रयास करें ऐसा करने से आपकोपरीक्षा में बहुत अच्छे अंक प्राप्त होंगे और इससे आपका कॉन्फिडेंस लेवल भी बढ़ता है|
  • यदि आप किसी प्रश्न का उत्तर नहीं जानते हैं या समझ नहीं पा रहे हैं तो आप इंटरनेट का उपयोग करें|
  • अपने सिलेबस को बहुत अच्छे से समझें और सभी विषयों की अलग-अलग की अलग-अलग किताबें पढ़ें| ताकि आप हर विषय में अच्छे से परीक्षा की तैयारी कर सकें और अच्छे अंक प्राप्त कर सके|
  • अगर आप चाहे तो Coaching Center भी Join कर सकते हैं|
  • पढ़ाई के दौरान दिमाग को फ्री रखें|
(SDM Officer) एसडीएम ऑफिसर कैसे बने
Patwari Kaise Bane

Tehsildar Selection Process (चयन प्रक्रिया)

तहसीलदार का चयन राज्य लोक सेवा आयोग सिविल सर्विस एग्जाम के माध्यम से होता है लोक सेवा आयोग सिविल सेवा परीक्षा 3 चरणों में आयोजित करती है|

  1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा पास करें

तहसीलदार बनने के लिए प्रारंभिक परीक्षा पहला चरण होता है इसको क्वालीफाइंग पेपर भी कहा जाता है| इस परीक्षा में सभी प्रश्न Objective Type होते हैं इसमें 2 पेपर होते हैं यह दोनों पेपर 200- 200 अंक के होते हैं कुल 400 अंकों की यह परीक्षा होती है तथा इस में नेगेटिव मार्किंग होती है|

मुख्य परीक्षा पास करें

प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद मुख्य परीक्षा होती है इस परीक्षा में व्याख्यात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं यह परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा से अधिक कठिन होती है इसमें प्रारंभिक परीक्षा के सिलेबस का विस्तृत सिलेबस होता है|

साक्षात्कार क्लियर करें

तहसीलदार बनने का यह अंतिम चरण होता है इंटरव्यू में आपके ज्ञान को चेक किया जाता है| साक्षात्कार के 275 अंक होते हैं यह इंटरव्यू लगभग आधे घंटे 45 मिनट का होता है|

निष्कर्ष (Conclusion)

यह थी आज की तहसीलदार को लेकर सभी जानकारी उम्मीद है कि आपको (Tehsildar Kaise Bane) तहसीलदार कैसे बने से संबंधित सभी जानकारी पसंद आई होगी हम आपको प्रतिदिन किसी भी विषय पर सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को विस्तार पूर्वक प्रदान करते हैं जिससे आपके सामान्य ज्ञान में वृद्धि होती हैं और आपको हमारी पोस्ट से बहुत सी बातों के बारे में आसान और सरल भाषा में संपूर्ण जानकारियां प्राप्त होती है यदि आप किसी भी विषय को लेकर अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट https://kaunkyahai.in/ से प्राप्त कर सकते हैं या आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी बता सकते हैं|

यदि आज की हमारी तहसीलदार को लेकर सभी जानकारी पसंद आई हो तो आर्टिकल को शेयर जरूर करें|

Leave a Comment