पोस्टपेड और प्रीपेड क्या होता है? Difference Postpaid and Prepaid in Hindi

Difference Postpaid and Prepaid: आप सभी ने देखा होगा कि हम सभी के पास हमारे फोन में एक छोटा सा सिम कार्ड होता है जो बड़े काम का होता है लेकिन इस छोटे से सिम कार्ड के भी दो प्रकार होते हैं| प्रीपेड और पोस्टपेड अपने सिम के यह दो नाम तो सुने होंगे लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं और शायद आप भी इन सिम के बारे में नहीं जानते होंगे कि पोस्टेड और प्रीपेड सिम क्या होते हैं| यदि आपको इस विषय में जानकारी नहीं है और आप पोस्टपेड और प्रीपेड सिम के बारे में जानना चाहते हैं तो आज हम आपको पोस्टपेड और प्रीपेड सिम में अंतर (Difference Postpaid and Prepaid) बताएंगे|

मोबाइल सिम कार्ड लॉक तोड़े या खोलें
IP Address क्या है
TATA SKY Recharge Kaise Kare

Postpaid Kya Hai

पोस्टपेड एक सिम होता है जिससे आप Calling, sms और Internet की सेवाओं का लाभ बहुत आसानी से उठा सकते हैं लेकिन बाद में इसका Bill Pay करना होता है जो आपके प्लान के मुताबिक महीने में या साल में चुकाना पड़ सकता है| इसलिए जो लोग Internet और Calling का इस्तेमाल अधिकतर करते हैं उनके लिए Postpaid sim बहुत ही फायदेमंद साबित होता है इस सिम का इस्तेमाल अधिकतर बिजनेस करने वाले लोग करते हैं क्योंकि उन्हें इंटरनेट का इस्तेमाल अधिक करना होता है| इस सिम का उपयोग करने से आपको रिचार्ज खत्म होने की प्रॉब्लम नहीं रहती है क्योंकि इस सिम में महीने या साल आपके प्लेन के हिसाब से बिल भुगतान करना होता है|

Prepaid Kya Hai

प्रीपेड भी भारत में इस्तेमाल किया जाने वाला एक सिम है यह एक ऐसा सिम होता है जिसका इस्तेमाल करने के लिए आपको सबसे पहले इसमें रिचार्ज करवाना पड़ता है जिसके बाद ही आप इस सिम में Calling, sms  और Internet का उपयोग कर सकते हैं| इस सिम का इस्तेमाल आम लोग भी कर सकते हैं क्योंकि अगर आपको इमरजेंसी पड़ती है तो आप इस सिम में 10 20 रुपए तक का लोन भी ले सकते हैं| लेकिन यह लोन कॉल और इंटरनेट के लिए अलग-अलग आने पर फिर से पैसे डलवाने के बाद ही आप कॉलिंग मैसेज और इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं|

फ्री रिचार्ज कैसे करे 
Airtel Me Free Data Kaise Paye
Difference Postpaid and Prepaid

Difference Postpaid and Prepaid (पोस्टपेड और प्रीपेड सिम में अंतर)

पोस्टपेड (Postpaid)  प्रीपेड (Prepaid)
पोस्टपेड में मंथली बिल पेमेंट करना होता हैप्रीपेड में पहले रिचार्ज करना होता है|
Postpaid sim में प्लान महंगे होते हैं लेकिन ज्यादा कॉल और इंटरनेट का उपयोग करने वालों के लिए यह बहुत फायदेमंद साबित होते हैं|Prepaid sim में लोगों को सस्ते प्लान की सुविधा मिल जाती है| लेकिन अधिक पाल और इंटरनेट का उपयोग करने वालों के लिए यह सिम थोड़ा महंगा पड़ जाता है|
Personal Use के लिए यह सही नहीं है क्योंकि इससे बहुत अधिक खर्च होता है|Personal Use के लिए प्रीपेड ही बेस्ट है|
पोस्टपेड सिम कनेक्शन में आपके उपयोग की निगरानी प्रदाता द्वारा की जाती है और उपयोग के आधार पर बिलिंग बनाई जाती है| अगर आप आवंटित किए गए उत्तर एवं कॉलिंग की सुविधा से अधिक इस्तेमाल करते हैं तो वह आपको भुगतान करना होता है|प्रीपेड सिम कनेक्शन में आपकी सेवाएं आपके द्वारा भरी गई राशि के आधार पर उपलब्ध होती है और आपको सदैव अपने उपयोग की निगरानी रखनी पड़ती है|
पोस्टपेड सिम में प्लान वैलिडिटी के साथ दिए जाते हैं इसमें आपको मंथली या ईयरली आपके प्लान के हिसाब से रिचार्ज करवाना होता हैप्रीपेड सिम के रिचार्ज अनलिमिटेड वैलिडिटी के साथ आते हैं| इसलिए इसमें आप जितना कॉल और डाटा का उपयोग करेंगे उतना ही आपका बैलेंस खत्म होता हुआ चला जाएगा|

Conclusion

आज के आर्टिकल के अंतर्गत हमने आपको Difference Postpaid and Prepaid से संबंधित जानकारियां प्रदान की| यदि आज के आर्टिकल के अंतर्गत हमारे द्वारा दी गई यह सभी जानकारी आपको पसंद आई हो और आप इस जानकारी से संतुष्ट है या फिर आप इससे संबंधित कोई सवाल या सुझाव या अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं|

Difference Postpaid and Prepaid- FAQ’s

पोस्टपेड या प्रीपेड में कौन सा सिम बेहतर है?

यदि आप अपनी मोबाइल सेवाओं का बार-बार या भरी उपयोग करते हैं तो पोस्टपेड सिम एक बेहतर विकल्प होता है|

प्रीपेड और पोस्टपेड क्या होते हैं?

प्रीपेड और पोस्टपेड एक सिम कार्ड होते हैं प्रीपेड को पहले रिचार्ज करते हैं और पोस्टपेड का बिल बाद में आता है|



पोस्टपेड की लागत कितनी है?

₹300 प्रति माह से लेकर 1500 या इससे अधिक पोस्टपेड की लागत होती है|

Leave a Comment