Career Counselling क्या होता है ? इसके कार्य व फायदे पूरी जानकारी

Career Counselling Kya Hai: आजकल हर व्यक्ति किसी न किसी क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहता है और आपको बता दें कि सही तरीके से कैरियर चुनाव के लिए व्यक्ति को कैरियर काउंसलिंग की आवश्यकता हो सकती है आप यह जान ले कि यह जरूरी नहीं होता है कि केवल विद्यार्थी वर्ग को ही अपने कैरियर के चयन इत्यादि के लिए कैरियर काउंसलिंग की आवश्यकता होती है| बल्कि किसी भी क्षेत्र में कार्य करने के लिए या फिर किसी भी क्षेत्र में कार्य कर रहे व्यक्तियों अनुभवी बेरोजगार व्यक्तियों इत्यादि को भी कैरियर काउंसलिंग की आवश्यकता होती है यही कारण है कि आज के लेख के अंतर्गत हम आपको Career Counselling Kya Hai के बारे में सभी विस्तार पूर्वक जानकारियां प्रदान करेंगे|

इसके अलावा हम आपको कैरियर काउंसलर कौन होते हैं कैरियर काउंसलर के कार्य इसके फायदे केरियर काउंसलर बनने के लिए योग्यता तथा केरियर काउंसलर कैसे बने और इसको बनने के लिए कोर्स आदि के बारे में भी हम आपको जानकारियां प्रदान करेंगे| यह सभी और इससे भी अधिक जानकारियां प्राप्त करने के लिए आपको हमारे लेख को अंत तक पढ़ना होगा लेख को अंत तक पढ़ने के बाद आप केरियर काउंसलिंग के बारे में सभी संपूर्ण जानकारियां प्राप्त कर सकेंगे|

Career Counseling क्या होता है

Career Counselling Kya Hai

Career Counselling Kya Hai – Career Counseling एक ऐसी Service या सेवा है जो किसी व्यक्ति को उसके कैरियर बनाने में उसकी सहायता करती है अन्य शब्दों में इसे कभी-कभी Career Coaching या Career Development भी कहा जाता है| आपको बता दें कि कैरियर काउंसलिंग के माध्यम से व्यक्ति अपने कैरियर के लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित कर सकता है और इसी के साथ ही उन लक्ष्यों को पूरा करने के लिए जरूरी कदम उठा सकता है|

कैरियर काउंसलिंग का लाभ कोई भी व्यक्ति चाहे वह अपने कैरियर के शुरुआती दौर में हो या फिर कुछ समय बाद दोबारा से कार्य करने के इच्छुक हो सभी व्यक्ति Career Counseling के माध्यम से अपनी पसंद के कैरियर में आगे बढ़ने की तैयारी कर सकते हैं इसका फायदा वह लोग भी उठा सकते हैं जो वर्तमान समय में कार्यरत हो वह भी अपने कैरियर में आगे बढ़ने की राह इसके माध्यम से आसान कर सकते हैं| Career Counseling की मदद से लोगों को उनके कैरियर में आने वाली समस्या के समाधान हेतु उचित सलाह दी जाती है करियर काउंसलिंग करने वाले ट्रेंड लोग होते हैं जो सफल कैरियर बनाने के लिए आपके अंदर के स्किल और जज्बे को पहचान कर अच्छा करियर ऑप्शन बनाते हैं|



ये भी पढ़े- सीटेट (CTET) परीक्षा की तैयारी कैसे करे
ये भी पढ़े – डी एल एड (D.EL.ED) क्या है

करियर काउंसलर कौन होते हैं

Career Counselor करियर काउंसलर वह प्रोफेशनल होते हैं जो प्रेशर छात्रों को उनके कैरियर के बारे में गाइडेंस देते हैं करियर काउंसलर छात्रों के लिए प्लान बनाने और उनके रोजगार के लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करते हैं करियर काउंसलर और कोच्चि छात्रों के साथ काम करके उन्हें स्ट्रेटजी सिखाते हैं कि कैसे नए रोजगार अवसरों को सफलतापूर्वक खोजा जाए Career Counselor राज्यों के Labor Community Agencies School Systems 2 और 4 वर्ष के College Career Office और Private Counseling Farms द्वारा नियुक्त किए जाते हैं|

करियर काउंसलर कैसे बने

  • करियर काउंसलर बनने के लिए सबसे पहले आप को मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वीं पास होना चाहिए
  • 12वीं पास करने के बाद आपको निम्नलिखित निम्नलिखित कोर्स में से चयन करना होगा

BA in psychology

BA honours in psychology

BSc in psychology

  • ऊपर बताए गए विषयों से स्नातक पास करने के बाद नीचे बताएंगे निम्नलिखित विषयों से मास्टर डिग्री प्राप्त करें
  • MA in psychology
  • MSc in psychology
  • इन कोर्स के साथ में PG diploma in psychology PG diploma in guidance and counseling course जरूर करें|
  • यह कोर्स करने के बाद आप Career Counselor बनने योग्य हो जाएंगे इसके बाद आप अपनी Service की शुरूआत करने के लिए Communication Skill को मजबूत बनाएं|

Career Counselor बनने के लिए योग्यता

  • Career Counseling के क्षेत्र में करियर काउंसलर बनने की इच्छा रखने वाले लोगों को करियर काउंसलर की योग्यता को जानना बहुत जरूरी है जिसके बारे में हम आपको नीचे जानकारी प्रदान करेंगे|
  • करियर काउंसलर बनने के लिए आपकी आयु 18 वर्ष से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए|
  • आपका किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की कक्षा में उत्तीर्ण होना अनिवार्य है|
  • पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स करने के लिए आपका भारत सरकार के मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी के कॉलेज से स्नातक पास होना जरूरी है इसके बाद आप करियर काउंसलर बन सकते हैं|

करियर काउंसलिंग क्यों जरूरी है

वर्तमान समय में Career Counselor की आवश्यकता स्टूडेंट जॉब करने वाले अधिकारी सभी को होती है क्योंकि आजकल कैरियर कैसे और किस क्षेत्र में बनाना है इसको लेकर हर किसी को उलझन रहती ही है ऐसे में करियर काउंसलिंग की आवश्यकता होती है इसे आप एक उदाहरण के तौर पर समझ लीजिए कि एक बच्चा है जो अपनी 12वीं कक्षा Science Bio से कर रहा है उसके घर में सभी लोग या अधिकतर लोग डॉक्टर है ऐसे में उस बच्चे से भी उम्मीद यही की जाती है कि वह भी डॉक्टर बने लेकिन बच्चे की रुचि इंजीनियर बनने में है  ऐसी स्थिति में उसे करियर काउंसलर की आवश्यकता होती है|

आपको बता दें कि दुनिया के हर इंसान में एक अनोखी बात होती है हर इंसान के अंदर कई ऐसे गुण और अवगुण मौजूद होते हैं जो दूसरे व्यक्तित्व में मौजूद नहीं होते यदि वह अपने स्किल और प्रतिभा को पहचान कर उन क्षेत्र में करियर बनाएं तो सफलता उनके कदम चूमेगी करियर काउंसलिंग आपके अंदर छुपी स्किल और प्रतिभाओं को पहचान कर उसे मजबूत बनाता है|

करियर काउंसलर के कार्य

  • यदि आप करियर काउंसलर के कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस बारे में हम आपको नीचे जानकारी प्रदान करेंगे|
  • लोगों की कैरियर समस्या को सुनने के बाद उनका उचित समाधान निकालना|
  • कैरियर संबंधी समस्या को सुनने समझने के बाद उस समस्या को विस्तार से हल करना|
  • खुद के अंदर कम्युनिकेशन स्किल और रिसर्च को इंप्रूव करते रहना ताकि लोगों को आपकी बात से वेटेज मिले|
  • छात्रों के अंदर छुपे स्किल को पहचान कर उन्हें उनके प्रति प्रोत्साहित करना जिससे वे उस फील्ड में अच्छा करियर बना सके|
  • करियर काउंसलर का कार्य होता है कि वह किसी भी छात्र को निराश ना होने दें लगातार मोटिवेट करते रहें ताकि वह अच्छा करियर तलाश कर सके|
  • नए-नए Career Option से Updated रहना और उन करियर के लिए स्पेसिफिक कोर्सेज और यूनिवर्सिटी के बारे में संपूर्ण जानकारियां रखना भी करियर काउंसलर का कार्य होता है|
ये भी पढ़े – ITI Course Kya Hai
ये भी पढ़े – बी फार्मा क्या है

Career Counselor Course

यदि आप Career Counselor बनना चाहते हैं तो हम आपको बताना चाहेंगे कि भारत में करियर काउंसलर का स्कोप दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है यदि आप भी करियर काउंसलर के क्षेत्र में जाना चाहते हैं या इस इसके कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हम नीचे करियर काउंसलर कोर्स के बारे में बताने वाले हैं|

  • BA in psychology
  • BA honours in psychology
  • PG diploma in psychology
  • PG diploma in guidance and counselling
  • MA in psychology
  • MSc in psychology

Best College for Career Counseling Course

  • Delhi University -New Delhi
  • Banaras Hindu University -Banaras
  • Jamia milia islamiya -New Delhi
  • Aligarh Muslim University -Aligarh
  • Rajiv Gandhi National institute of youth development -Tamilnadu
  • Indira Gandhi National open University -New Delhi
  • National council of education and research training (NCERT)- New Delhi
  • Bhartar University – Coimbatore

Career Counselor की Salary (वेतन)

  • यदि बात करें करियर काउंसलर के वेतन की तो शिक्षण संस्थान में बतौर काउंसलर ज्वाइन होते हैं तो शुरुआत में 20,000 से 30,000 प्रति माह की सैलरी करियर काउंसलर को मिलती है
  • Career Counselor की सैलरी एक्सपीरियंस के अनुसार बढ़ती है यदि आपको इस क्षेत्र में 5 साल का Experience है तो Corporate Sector या बड़े यूनिवर्सिटी में ज्वाइन होने के बाद 40,000 से 1,00,000 प्रतिमाह की सैलरी मिल सकती है|
  • यदि आप इस क्षेत्र में मेहनत करते हैं और फेमस हो जाते हैं तो आप लाखों रुपए घर बैठे कमा सकते हैं वर्तमान समय में ऐसे बहुत से Influence है जो इस क्षेत्र में भरपूर मेहनत करके लोगों को Motivate और करियर काउंसलर के लिए सेमिनार का आयोजन करते हैं और आज वह लाखों रुपए कमा रहे हैं|

करियर काउंसलर बनने के फायदे

करियर काउंसलर बनने के आपको बहुत से फायदे हो सकते हैं जिनमें से कुछ फायदा के बारे में हम आपको नीचे बताएंगे|

  • पढ़ाई पूरी करने के बाद सभी लोगों को करियर चुनने में बहुत कन्फ्यूजन होती है लोग अपना सही कैरियर का चुनाव नहीं कर पाते हैं जिस कारण वे लगातार परेशान होते हैं|
  • Career Counseling करने वाला Counseling व्यक्ति को अपनी रूचि और ज्ञान को पहचानने के लिए प्रेरित करता है वह स्वयं के अंदर आत्मविश्वास पैदा करता है जिससे वह मनपसंद कार्य का चयन कर पाते हैं|
  • Career Counseling में Career सलाहकार विद्यार्थी को उनके कैरियर के बारे में एक स्पष्ट मार्गदर्शन देता है उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि यदि किसी के पिता डॉक्टर है तो उनके बेटे या बेटी को भी डॉक्टर ही बनना चाहिए एक अच्छा केरियर सलाहकार बच्चों को रुचि योग्यता के मुताबिक ही उन्हें कैरियर सलाह प्रदान करता है|
  • Counseling के माध्यम से उम्मीदवार को उसी परिस्थिति से गुजरने वाले अनेक लोगों से मुलाकात होती है जिससे उसका नेटवर्क बढ़ जाता है और उसे भावात्मक सपोर्ट एक Motivation मिलता है|
  • करियर काउंसलिंग की मदद से लोग अपने अंदर के हुनर को पहचान पाते हैं जिससे उनको कैरियर का चयन करने में कोई समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है|
  • यदि आप अपने करियर में लगातार गलती कर रहे हैं तो करियर काउंसलिंग की मदद से आप अपने अंदर की कमी ढूंढ पाते हैं और काउंसलर उसमें सुधार करके तरीके बताते है|
  • Career Counseling की मदद से आपको अपने अंदर की Weakness और Strength को जानने में मदद मिलती है| इन्हीं कमजोरी और मजबूती के दम पर आप गोल अचीव करवाने में काउंसलर आपकी सहायता करता है|

Conclusion – Career Counselling Kya Hai

आज की पोस्ट में हमने आपको Career Counselling Kya Hai और करियर काउंसलर कैसे बने से संबंधित सभी विस्तार पूर्वक जानकारियां प्रदान की आशा है कि आपको यह सभी जानकारी पसंद आई होगी आप जान चुके होंगे कि करियर काउंसलर बनने से आपको कितने फायदे हो सकते हैं और आप घर बैठे भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं यदि आपको हमारे द्वारा दी गई आज की सभी जानकारी पसंद आई हो तो हमारी पोस्ट को अपने दोस्तों आदि में शेयर जरूर करें|

Leave a Comment