फास्टैग क्या होता है What is Fastag | FASTAG के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

FASTag Kya Hai – आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको टोल प्लाजा पर लागू हुए Fastag के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करेंगे| आप सभी ने अक्सर देखा होगा कि किस प्रकार टोल प्लाजा पर वाहनों की लंबी लाइनें लगी होती है कई बार तो इतना जाम होता है कि आम आदमी परेशान हो जाता है वाहन चालकों को सुविधा हो और टोल प्लाजा कलेक्ट में कोई परेशानी ना हो इसलिए भारत सरकार के रोड एंड ट्रांसपोर्ट मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली संस्था NHAI द्वारा FASTag Implementation का सुझाव दिया गया  इन सभी दिक्कतों के समाधान के लिए National Highway Authority of India के द्वारा भारत में इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम की शुरुआत की गई इलेक्ट्रॉनिक टोल फास्टैग की शुरुआत भारत में पहली बार 2014 को की गई केंद्र सरकार द्वारा इस संशय के समाधान के लिए 15 फरवरी 2021 की आधीरात से ही फास्ट को पूरे देश में अनिवार्य कर दिया गया

यदि आप फास्टैग के बारे में अधिक जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो आर्टिकल को अंत तक ध्यान पूर्वक जरूर पढ़ें| क्योंकि आर्टिकल के अंतर्गत आपको फास्टैग क्या होता है, यह कैसे काम करता है, Fastag का पूरा नाम क्या है, फास्टैग के उद्देश्य तथा लाभ फास्टैग रिचार्ज कैसे करें और फास्टैग लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें आदि सभी जानकारियां जानने को मिलेगी|

फास्टैग क्या होता है (FASTag Kya Hai)

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा बनाया गया फास्टैग एक तरह का Electronic Toll Collection का एक आसान और सहज तरीका होता है जो भी वाहन राष्ट्रीय राजमार्ग से होकर गुजरते हैं उन्हें सरकार को टोल टैक्स देना होता है| Toll Tax वसूलने के लिए हाईवे पर यह राष्ट्रीय राजमार्ग पर जगह-जगह Toll Plaza Center बनाए जाते हैं और यहां से गुजरने वाले सभी वाहनों को टोल टैक्स देना होता है| फास्टैग एक ऐसा स्टिकर होता है जो आपकी गाड़ी के आगे की विंडो स्क्रीन पर लगाया जाता है यह रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन तकनीक पर कार्य करता है यह सरकार का ऐसा टैग है जो कि सभी गाड़ी के विंडो स्क्रीन पर लगाया जाता है यह आपके Bank Account या आपके Wallet से जुड़ा होता है| फास्ट्रेक का यह फायदा होता है कि जब भी आप टोल प्लाजा से गुजरते हैं तो आपको टोल टैक्स चुकाने की जरूरत नहीं होती है आपके वाहन पर लगे हुए फास्टैग से स्केनर द्वारा टोल भुगतान आसानी से हो जाता है और यह टेक्स डायरेक्ट सरकारी अकाउंट में जमा हो जाता है|

फास्टैग कैसे काम करता है

चार पहियों वाले वाहनों के विंडो स्क्रीन पर ही Fastag को लगाया जाता है और इस फास्टैग में रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन लगा होता है इस तरह आपका वाहन जैसे ही टोल प्लाजा सेक्टर की रेंज में आता है तो टोल प्लाजा पर लगा हुआ सेंसर आपके विंडो स्क्रीन पर लगे हुए फास्टेग से संपर्क करता है और इससे आपकी टोल प्लाजा पर लगने वाले टोल टैक्स सीधे आपके बैंक अकाउंट से कट जाता है और डायरेक्ट सरकारी खाते में जमा हो जाते हैं| और आप बिना किसी परेशानी और रुकावट के टोल टैक्स को आसानी से जमा कर देते हैं| क्योंकि आपकी विंडो स्क्रीन पर जो फास्टैग लगा होता है वह टोल प्लाजा पर लगे हुए सेंसर से संपर्क करता है और अपना कार्य करने लगता है जब आपके Fastag कि अकाउंट राशि खत्म हो जाती है तो इसके बाद आपको फिर से रिचार्ज करवाना पड़ता है फास्टैग की समय सीमा अधिकतम 5 वर्ष तक होती है|



FASTag का पूरा नाम

FASTag का पूरा नाम “इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली” होता है|

Truecaller क्या है
ड्राइविंग लाइसेंस की फीस कितनी है 

फास्टैग के उद्देश्य

  • देश का टोल इलेक्ट्रॉनिक रूप से कलेक्ट करना फास्टैग प्रमुख उद्देश्य है|
  • भारत सरकार के सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा सड़कों पर हो रहे लंबे जाम से निजात पाने के लिए फास्ट्रेक की शुरुआत की गई|
  • इसके अलावा फास्टैग को आरंभ करने का उद्देश्य टोल को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से कलेक्ट करना है|
  • यह NPCI के द्वारा चलाया जा रहा है|

फास्टैग के लाभ

  • Fastag System से Cash Less Transaction में तेजी आएगी|
  • आपको टोल प्लाजा में लंबी लाइनों में लगकर अधिक इंतजार नहीं करना पड़ेगा |
  • आपके कीमती समय की बचत होगी|
  • फास्टैग वॉलेट में बचे हुए पैसों को आप 5 वर्षों तक प्रयोग में ला सकेंगे|
  • इसके द्वारा आपको एसएमएस अलर्ट फैसिलिटी मिलती है|
  • टोल प्लाजा में ओवरलोडिंग की समस्या कम होती है|
  • फास्टैग से आपको Cashback की सुविधा भी मिलती है|
  • फास्टैग से मिलने वाला कैशबैक 7 दिनों में आपके फास्टैग अकाउंट में आ जाता है|
  • फास्टैग से अवैध वसूली की समस्या से भी निजात मिल सकेगी|
  • टैक्स की चोरी करना भी आसान नहीं होगा|
  • आपके वाहन के पेट्रोल डीजल की भी बचत होगी|
  • सड़क दुर्घटना में कमी आएगी|

Fastag Bank List

  • Allahabad Bank
  • AU Small Finance Bank
  • Axis Bank Ltd
  • Bank of Baroda
  • Bank of Maharashtra
  • Canara Bank
  • Central Bank of India
  • City Union Bank Ltd
  • Equitas Small Finance Bank
  • Federal Bank
  • FINO Payments Bank
  • HDFC Bank
  • ICICI Bank
  • IDBI Bank
  • IDFC First Bank
  • IndusInd Bank
  • Jammu and Kashmir Bank
  • Karur Vysya Bank
  • Kotak Mahindra Bank
  • Nagpur Nagarik Sahakari Bank
  • PAYTM Bank

फास्टैग कहां से मिलता है – FASTag Kya Hai

  • Fastag Toll Plaza के साथ में ही बने हुए फास्टैग बूथ से प्राप्त कर सकते हैं|
  • Fastag को आप Online Website से भी खरीद सकते हैं जैसे – Amazon,  Flipkart, Snapdeal आदि|
  • फास्टैग आपको पेट्रोल पंप, बैंक और कई जगह पर उपलब्ध हो जाएंगे|
  • इस तरह की RFID फास्टैग आईडी देने वाले भारत में कुल 22 बैंक है|

FASTag Recharge कैसे करें

  • यदि आप फास्टैग रिचार्ज कराना चाहते हैं तो उसके लिए वाहन चालक को यह सुनिश्चित करना होगा कि क्या उसके वाहन में लगे हुए फास्टैग रिचार्ज है या नहीं |
  • फास्टैग का पहली बार रिचार्ज 150 रुपए का होता है|
  • फास्टैग को आप अपने डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के साथ-साथ आरती और नेट बैंकिंग से भी अपने फास्टैग बैंक अकाउंट को रिचार्ज कर सकते हैं|
  • फास्टैग का रिचार्ज करने से पहले एक बार यह जरूर चेक कर ले कि आपका फास्टैग आपके बैंक अकाउंट से लिंक है या नहीं|
  • क्योंकि आपका फास्टैग आपके बैंक अकाउंट से लिंक होना अनिवार्य है|
  • आप अपने फास्टैग को Recharge Application Park, My Fastag, Fastag जैसे आदि से भी बड़ी आसानी से रिचार्ज कर सकते हैं|
  • इसके अलावा आप fastag.ihmcl.com मै जाकर भी अपना Fastag  रिचार्ज कर सकते हैं|

फास्टैग के लिए आवेदन कैसे करें

  1. पेटीएम फास्टैग का आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में पेटीएम एप्लीकेशन को ओपन करना होगा|
  2. अब आपको पेटीएम एप्लीकेशन में बाय फास्टैग वाला ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करें|
  3. बाय फास्टैग के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर पेटीएम फास्टैग का पेज ओपन होगा|
  4. इसमें आपको अपनी गाड़ी का नंबर एंटर करना होगा|
  5. आपको अपनी गाड़ी की आरसी यानी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के दोनों साइड की फोटो अपलोड करनी होगी|
  6. और अब आपको अपने डिलीवरी ऐड्रेस को कंफर्म करना है|
  7. आपका पेटीएम फास्टैग इसी एड्रेस पर भेजा जाएगा|
  8. अब आपको बाई वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  9. और अपने पसंदीदा पेमेंट ऑप्शन में पेमेंट कर दें|
  10. इतना करने के बाद आठ 10 दिन अंतराल में आपका पेटीएम फास्टैग आपके घर डिलीवर कर दिया जाएगा|
शेयर मार्केट क्या है
RTO Officer Kaise Bane

Conclusion

आज के आर्टिकल में आपको FASTag Kya Hai से संबंधित सभी जानकारियां प्रदान की गई है इस आर्टिकल के अंतर्गत आपको बताया गया कि फास्ट टैग क्या होता है, इसका क्या काम है, Fastag का पूरा नाम फास्टैग कहां से बनवाएं, इसका रिचार्ज कैसे करें तथा फास्टैग के लिए आवेदन कैसे करें आदि| यदि अभी भी आपके मन में फर्स्ट को लेकर कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं| और अगर आपको हमारे द्वारा दी गई सभी जानकारियां पसंद आई हो तो आर्टिकल को शेयर जरूर करें|

Leave a Comment