C language Kya Hai और C Language कैसे सीखे What is C language in Hindi

C Language Kya Hai – दोस्तों C’ Language को लेकर बहुत के मन में बहुत से प्रश्न होते हैं यदि आप एक बढ़िया Engineer बनना चाहते हैं तो उसके लिए जो सबसे Important बात होती है वह होती है coding क्योंकि Technical Interviews मे आपको उनके Experts Theory Question के साथ-साथ Code लिखने के लिए भी पूछ सकते हैं वैसे मैं अगर आपके पास प्रोग्रामिंग की ठीक नॉलेज नहीं होगी तो आप इन Interviews में आगे नहीं बढ़ पाएंगे|

वैसे अधिकतर इन Interviews में Basic Programming Language जैसे की C,C++ के संबंध में ही Question पूछे जाते हैं| अब सवाल यह है कि क्या आपको मालूम है कि यह सी लैंग्वेज क्या है इसको कैसे लिखा जाता है| यदि इस प्रकार के सवाल आपके मन में भी है तो आपके लिए आज का हमारा यह लेख  C language kya hai आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होने वाला है यहां आपको C Programming language के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की गई हैं|

सी लैंग्वेज क्या है – C Language Kya Hai

C एक प्रक्रियात्मक प्रोग्रामिंग भाषा है इसको शुरुआती दौर में Develop डेनिस रिची किया गया था| Denis Ritchie के द्वारा सन 1969 से 1973 के बीच इसको मुख्य रूप से एक System Programming Language के तौर पर Develop किया गया था Operating System के Programs को लिखने के लिए Language ने Direct तरीके से हो या   Indirect तरीके से हो C’ Language से कई Syntax Features लिया है जैसे कि Java PHP Java script और दूसरे Language के Syntax सभी C’ Language के ऊपर आधारित होते हैं| C++ को आप C Language का एक Superset कह सकते हैं ऐसे कुछ Programs हे जोकि C में Compile होते हैं लेकिन C++ में नहीं|

C Language Kya Hai
Software Engineer Kaise Bane 
BCA Course क्या है

सी’ भाषा इतिहास

  • सी को अस्वीकार अंग्रेजी द्वारा वर्ष 1972 में विकसित और लिखा गया था और यही कारण है कि उनको सी भाषा के संस्थापक के रूप में जाना जाता है|
  • C’ Programming Language की उत्पत्ति 1970 के दशक की शुरुआत में Bell Labs से हुई थी Bell Labs Paper Development Of The C’ Language के अनुसार सी’ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कौन से 70 के दशक की शुरुआत में नवजात Unix Operating System के लिए सिस्टम भाषा के रूप में डेनिश रिची द्वारा तैयार किया गया था|
  • C’ Programming language को पुरानी Programming Languages जैसे BCPL BASIC B आदि में पाई जाने वाली कठिनाइयों को दूर करने के लिए विकसित किया गया था|
  • सी भाषा में कई प्रोग्रामिंग भाषाएं थी जैसे कि 1960 के दशक में पहली उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा Algo   थी जो उस समय बहुत ही लोकप्रिय थी और इसे प्रोग्रामिंग भाषा का जनक भी कहा जाता था|
  • 1967 में (CPL) common programming language भाषा पेश की गई जो एल्गो का एक अद्यतन संस्करण था|
  • 1967 में CPL के बाद Richards ने एक नई प्रोग्रामिंग भाषा पेश की जो BCPL थी इस संस्करण को ALGO और CPL भाषा के साथ जोड़ा गया था और उन नामों को हटा दिया गया था जो संकलन को कठिन बना रहे थे|
  • करीब 1969 में केन और बाद में डेनिसे रिची ने बी भाषा का मुख्य रूप से BCPL भाषा Thompson के आधार पर विकसित किया था जिसका उपयोग मल्टिक्स परियोजनाओं में किया गया था|
  • हालांकि इसकी धीमी प्रकृति और ऑपरेटिंग सिस्टम में पीडीपी -11 सुविधाओं का लाभ लेने में असमर्थता के कारण कई उपयोगिता ओं को कभी भी बी में नहीं लिखा गया था| इसके कारण रिची ने बी पर सुधार किया और इस प्रकार सी भाषा का निर्माण किया|
  • C’ Programming Language को मूल रूप से Bell Labs में Denis Ritchie द्वारा 1972 और 1973 के बीच यूनिक्स पर चलने वाली उपयोगिता ओं के निर्माण के लिए विकसित किया गया था इसे Unix Operating System के करनैल को फिर से लागू करने के लिए लागू किया गया था 1980 के दशक के दौरान सीने धीरे-धीरे लोकप्रियता हासिल की|

यही सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इतिहास है|



सी प्रोग्राम का उदाहरण

C’ Coding के माध्यम से लैंग्वेज को समझें|

C Language Kya Hai

ऊपर दिए गए सी प्रोग्राम के उदाहरण को समझने के लिए और साइंटिस्ट के अनुसार सी प्रोग्राम कैसे लिखा जाता है यह समझने के लिए Syntax of C Language Token क्या है और C में Data Types को पढ़ें|

C’ Language इतनी लोकप्रिय क्यों हैं

सी प्रोग्रामिंग भाषा इतनी लोकप्रिय इसलिए है क्योंकि इसको सभी प्रोग्रामिंग भाषाओं की जननी के रूप में जाना जाता है 2022 में भाषा विभिन्न कारणों से व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली व्यवसायिक भाषा बन गई है|

सी प्रोग्रामिंग भाषा लोकप्रिय होने के कुछ मुख्य कारण इस प्रकार है जो हम नीचे बताने वाले हैं|

  • C’ Programming Language को सीखना आसान है|
  • C’ Language को विभिन्न Computer Platform पर संकलित किया जा सकता है|
  • सी भाषा एक सदाबहार भाषा रही है और पिछले कुछ दशकों में हुए अधिकांश सिस्टम विकास के लिए एक प्रमुख भूमिका निभा रही है|
  • C एक Flexible और Middle Level Language भी है यानी इसको Low Level और High Level Programming के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं|
  • C language एक Structured Language है इससे विभिन्न नियंत्रण संरचनाएं जैसे Switch Case if Then Else While आदि प्रोग्रामर को प्रोग्राम के प्रवाह को आसानी से रिकॉर्ड करने की अनुमति देता है|
पॉलिटेक्निक क्या होता हैं
ITI Course Kya Hai 

C’ Programming Language कैसे कार्य करती है

  • C एक Compiled Programming Language है एक Compiler का उपयोग किसी प्रोग्राम को संकलित करने और उसे मशीन पठनीय ऑब्जेक्ट फाइल में परिवर्तित करने के लिए किया जाता है जब कंपाइल्ड पूरा हो जाता है तो लिंकर विभिन्न ऑब्जेक्ट फाइलों को जोड़ता है और एक निष्पादन योग्य फाइल बनाता है जिसका उपयोग प्रोग्राम को चलाने के लिए किया जा सकता है|
  • C’ Program वाली प्रत्येक फाइल को C’ Extension के साथ Save किया जाना चाहिए Compiler के लिए यह समझना जरूरी है कि यह एक C’ Program है|
  • सी प्रोग्रामिंग भाषा चार मुख्य चरणों के साथ कार्य करती है उदाहरण के तौर पर नीचे समझाया गया है|
  • मान लीजिए एक प्रोग्राम फाइल है TIH C नाम का इसे Source कहा जाता है जिसमें प्रोग्राम का कोड होता है|
  • अब जब हम फाइल को संकलित करते हैं तो सी कंपाइलर त्रुटियों की तलाश करता है|
  • यदि सी Compiler कोई त्रुटि रिपोर्ट नहीं करता है तो यह फाइल को उसी नाम की Obj File के रूप में संग्रहित करता है जिसे Object File कहा जाता है|
  • तो यहां यह TIH obj बनाएगा इसी आब्ज फाइल निष्पादन Suitable नहीं है|
  • लिंकर द्वारा प्रक्रिया जारी रखी जाती है जो अंत में एक्स फाइल देता है जो निष्पादन योग्य हैं|
  • मूल रूप से इसी प्रकार C’ Programming कार्य करती है|

सी लैंग्वेज के फायदे

  • सी’ लैंग्वेज के कुछ सबसे महत्वपूर्ण लाभ नीचे दिए गए हैं|
  • C’ Language एक संरचित प्रोग्रामिंग भाषा है|
  • सी एक शक्तिशाली और कुशल भाषा है|
  • सी सबसे तेज संकलन प्रोग्रामिंग भाषा है|
  • सी’ एक मध्य स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा है|
  • सी’ भाषा के पास Library से भरपूर है|
  • C’ Language में Algorithm और डाटा संरचनाओं के कार्यान्वयन में आसानी होती है|

Leave a Comment