NCR Full Form in Hindi NCR क्या है इसमें कौन-कौन से जिले आते हैं पूरी जानकारी

NCR Full Form in Hindi – दोस्तों यह तो आप सभी जानते होंगे कि हम सभी भारत देश के निवासी है और हमारे भारत देश की राजधानी दिल्ली है इसके अतिरिक्त आपको यह भी बता दें कि दिल्ली का पुराना नाम इंद्रप्रस्थ था लेकिन वर्तमान समय में इसको अलग-अलग नामों से जाना जाता है जैसे नई दिल्ली और बहुत से लोग इसको एनसीआर भी कहते हैं एनसीआर का नाम आते ही अधिकतर लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि एनसीआर क्या हैं यदि आप भी  एनसीआर क्या है और NCR Full Form के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही पेज पर आए हैं यहां आपको एनसीआर से संबंधित सभी संपूर्ण जानकारियां प्राप्त होगी इन सभी जानकारियों को प्राप्त करने के लिए हमारे साथ अंत तक बने रहे|

NCR Kya Hai

यदि आप जानना चाहते हैं कि एनसीआर क्या है तो हम आपको बता दें कि यह भारत का महानगरीय क्षेत्र है जो कि हरियाणा उत्तर प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों के शहरी क्षेत्रों के अलावा दिल्ली के पूरे क्षेत्र को शामिल करता है इस क्षेत्र को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के रूप में जाना जाता है सामूहिक रूप से राज्य के इन सभी महत्वपूर्ण शहरों को एनसीआर कहा जाता है इसके बाद आपको एनसीआर में शामिल प्रत्येक शहरों के नामों के साथ एक सूची मिलेगी|

एनसीआर में ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्र शामिल है इस क्षेत्र का शहरीकरण स्तर 62.6 % है जिसमें शहरों और कस्बों के साथ-साथ जंगल अरावली, पर्वत, वन्यजीव और पक्षी अभयारण्य जैसे परिस्थितिक रूप से संवेदनशील क्षेत्र भी शामिल किए गए हैं एनसीआर का कुल क्षेत्र 550,83 वर्ग किलोमीटर है NCR का पहला नाम National Capital Region Planning Board था इसकी स्थापना भारत सरकार के द्वारा 1985 में की गई थी|

NCR Full Form

NCR Full Form

N – National



C – Capital

R – Region

हिंदी में इसको ‘राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र’ कहा जाता है|

ये भी पढ़े – GPS क्या है 
ये भी पढ़े – आरबीआई क्या है

Delhi NCR के फायदे

  • राष्ट्रीय राजनीति क्षेत्र योजना बोर्ड (NCRPB) की बनाई गई क्षेत्रीय योजना के तहत क्षेत्रों को बेहतर योजना मिलती है|
  • एनसीआर का हिस्सा होने के कारण क्षेत्र में निवेश की गतिविधियां बढ़ जाती है|
  • NCR में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं होती हैं|
  • क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलता है|
  • क्षेत्र में हम बेहतर बिजली पानी सुविधाएं होती है|
  • समूचे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र एनसीआर के लिए परिकल्पित बुनियादी ढांचा योजनाओं में शामिल होने की वजह से बुनियादी ढांचे का विकास होता है|
  • रीजनल रैपिड ट्रांजिस्टर (RRTS) और बेहतर सड़कों से दिल्ली के साथ बेहतर कनेक्टिविटी प्रदान की जाती है|

NCR का एरिया

एनसीआर के दायरे में आने वाले एरिया में पूरी दिल्ली के साथ पड़ोसी राज्यों के कुछ शहर और गांव शामिल है| दिल्ली का कुल क्षेत्र 1,483 वर्ग किलोमीटर है जो कुल एनसीआर का कुल 2.69% है NCR में शामिल सभी राज्यों के जिलों के नामों की सूची नीचे दर्शाई गई है|

ये भी पढ़े – NATO क्या है ?
ये भी पढ़े – ISI Mark क्या है 

एनसीआर में मौजूद हरियाणा राज्य के जिले

NCR में हरियाणा राज्य के 14 जिले आते हैं जिनका क्षेत्रफल 25327 वर्ग किलोमीटर है इन जिलों की लिस्ट नीचे दी गई है|

  • फरीदाबाद
  • गुरुग्राम
  • रोहतक
  • सोनीपत
  • पानीपत
  • झज्जर
  • भिवानी
  • नुह
  • रेवाड़ी
  • जींद
  • पलवल
  • महेंद्रगढ़
  • करनाल

NCR में शामिल उत्तर प्रदेश राज्य के जिले

नीचे आपको एनसीआर में शामिल होने वाले उत्तर प्रदेश राज्यों के जिलों के नामों की सूची दी गई है NCR में उत्तर प्रदेश के कुल 8 जिले आते हैं जिन का क्षेत्रफल 14,826 वर्ग किलोमीटर है|

  • मेरठ
  • बागपत
  • हापुड़
  • शामली
  • बागपत
  • मुजफ्फरनगर
  • गौतम बुध नगर

एनसीआर में शामिल राजस्थान राज्य के जिले

राजस्थान राज्य के केवल 2 जिलों को एनसीआर में शामिल किया गया है जिन का क्षेत्रफल 13,447 वर्ग किलोमीटर है यह केवल 2 जिले हैं और इन जिलों के नाम आपको नीचे दिए गए हैं|

  • अलवर
  • भरतपुर

FAQ’s

एनसीआर का मतलब क्या होता है?

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र अर्थात दिल्ली के आसपास का क्षेत्र|

एनसीआर में क्या-क्या आता है?

फरीदाबाद, गुरुग्राम, नोह, रोहतक, सोनीपत, रेवाड़ी, झज्जर, पानीपत, पलवल, भिवानी, चरखी, दादरी, महेंद्रगढ़, जींद और करनाल|

एनसीआर के क्या फायदे हैं?

एनसीआर में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं होती है क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलता है क्षेत्र में बेहतर बिजली पानी की सुविधा होती है|

दिल्ली को दिल्ली एनसीआर क्यों कहा जाता है?

दिल्ली के पड़ोसी राज्यों के नजदीकी क्षेत्र को दिल्ली एनसीआर के नाम से पुकारा जाता है|

Leave a Comment