क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? Christmas Day 25 दिसंबर को ही क्यों मनाया जाता है?

Christmas Kyo Manaya Jata Hai: क्रिसमस का नाम तो आप सभी ने जरूर सुना होगा क्योंकि क्रिसमस इसी यानी क्रिश्चियन मजहब को मानने वाले हर व्यक्ति के लिए 25 दिसंबर का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इसी दिन क्रिसमस का त्योहार दुनिया भर में धूमधाम के साथ मनाया जाता है| 25 दिसंबर को क्रिसमस डे के तौर पर भी मान्यता दी गई है हालांकि त्यौहार का शुभारंभ 24 दिसंबर को ही शुरू हो जाता है|

क्रिसमस के दिन लोग शाम को चर्च में जाते हैं और ईसा मसीह से प्रार्थना करते हैं इसी मजहब के लोग 25 दिसंबर को ईसा मसीह के जन्मदिन के तौर पर मानते हैं| लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह जानना चाहते हैं कि क्रिसमस क्यों मनाया जाता है क्योंकि कई लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं होती है यही कारण है कि आज के लेख में हम Christmas Kyo Manaya Jata Hai के बारे में विस्तार पूर्वक बताने वाले हैं|

आज कौन सा त्यौहार है
भारत के त्योहारों की सूची 
 दिवाली पर निबंध

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? (Christmas Kyo Manaya Jata Hai)

क्रिसमस का त्योहार कई शताब्दी से किया जा रहा है जानकारी के अनुसार पहली बार क्रिसमस त्योहार का आयोजन रोम में किया गया था| हालांकि उसे समय लोग 25 दिसंबर के दिन क्रिसमस की जगह पर रोम देश में सूर्य देव के जन्मदिन वर्ष के तौर पर इस दिन को मनाया जाता था क्योंकि उसे समय रोम के राजा सूर्य देव थे वह सूर्य को अपना प्रमुख देवता तन मन धन से मानते थे|

इसलिए रोम की जनता तथा रोम के राजा सूर्य देव की आराधना करते थे लेकिन जैसे जैसे से 330 आता गया वैसे-वैसे ही बहुत बड़ी मात्रा में क्रिश्चियन अर्थात इसी मजहब का तेज गति के साथ प्रचार होने लगा और देखते-देखते बड़ी मात्रा में रोम देश में रहने वाले अधिकतर लोगों के द्वारा इसी मजहब को अंगीकार कर लिया गया|



इसके बाद सूर्य देव का अवतार ईसा मसीह को 336 ए ईसा. में विषय मजहब के मानने वाले लोगों के द्वारा माना गया और इस प्रकार से 25 दिसंबर का दिन ईसा मसीह के जन्मदिन के तौर पर मनाया जाने लगा|

और तब से लेकर प्रतिवर्ष 25 दिसंबर को क्रिसमस का त्योहार धूमधाम के साथ दुनिया भर के अलग-अलग मनाया जाता है यहां तक की जो देश गैर ईसाई देश है वहां पर भी बड़े पैमाने पर इस त्यौहार का सेलिब्रेशन होता है|

इसी मजहब के अनुसार इस त्यौहार को बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के तौर पर मनाया जाता है क्रिश्चियन अर्थात इसी मजहब को मानने वाले लोगों के लिए 25 दिसंबर का दिन नया साल होता है|

रक्षा बंधन क्यों मनाया जाता है
15 अगस्त क्यों मनाया जाता है 

क्रिसमस कब मनाया जाता है?

क्रिसमस प्रतिवर्ष 25 दिसंबर को मनाया जाता है क्रिसमस का जश्न क्रिसमस दिवस से लगभग चार सप्ताह पहले शुरू हो जाता है और क्रिसमस के 12व दिन समाप्त होता है यह पूरी दुनिया में एक धार्मिक और पारंपरिक त्योहार के रूप में मनाया जाता है क्रिसमस मनाने की परंपरा क्षेत्र में अलग-अलग है| लोग उपहार क्रिसमस कार्ड वितरित करते हैं दावतों का आयोजन करते हैं|

Christmas Tree किया है?

Christmas Kyo Manaya Jata Hai

क्रिसमस ट्री एक सदाबहार पेड़ है जो क्रिसमस के उत्सव के एक भाग के रूप में लाइट और गहनों से सजाया जाता है|

मार्टिन लूथर ने क्रिसमस ट्री के लिए प्रचार किया था उनके माध्यम से क्रिसमस ट्री आखिरकार पूरे जर्मनी में प्रसिद्ध हो गया और शेष यूरोप जल्द ही क्रिसमस ट्री से परिचित हो गया 1840 में इंग्लिश क्वीन विक्टोरिया का पहला क्रिसमस ट्री इंग्लैंड में सजाया गया था|

क्रिसमस का महत्व (Importance Christmas in Hindi)

जब क्रिसमस का त्योहार मनाए जाने की शुरुआत हुई थी तब इसको केवल पश्चिमी देशों और ऐसे देश में ही मनाया जाता था जो इसी मजहब बहुल देश थे|

हालांकि जिस प्रकार से समय गुजरता गया वैसे ही दूसरे देशों में भी क्रिसमस का त्यौहार मनाया जाना शुरू कर दिया और आज यह हाल है कि दुनिया भर के विभिन्न देशों में क्रिसमस का त्योहार धूमधाम के साथ मनाया जाता है| यहां तक की भारत देश में भी प्रतिवर्ष 25 दिसंबर के दिन चर्च में लोगों की भारी भीड़ लगी रहती है|

क्रिसमस के त्यौहार को लेकर लोगों की यह सोच है कि लोगों को उनके पाप के भाड़ से मुक्त करने के लिए और पाप करने से रोकने के लिए परमेश्वर के द्वारा अपने बेटे को भेजा गया है| जिनका नाम ईसा मसीह है जिन्होंने लोगों को पाप से मुक्त करने के लिए हुए संघर्ष में अपने प्राण को त्याग दिया था|

क्रिसमस डे कैसे मनाया जाता है? (How Christmas Celebrated in Hindi)

क्रिसमस का पर्व एक ऐसा उत्सव है जो लोगों के जीवन में खुशी आनंद और पूजा से भरा होता है इस अवसर पर लोग चर्च जाते हैं कि केरल गाते हैं विभिन्न धार्मिक सेवाओं में भाग लेते हैं उपहार प्रस्तुत करते हैं| होली मिस्लेट लाइट्स फूलों और क्रिसमस ट्री के साथ अपने घरों को सुशोभित करते हैं और परिवार के साथ-साथ व्यवहार करते हैं| क्रिसमस की पूर्व संध्या पर दुनिया भर के चर्च श्याम की सेवाओं का प्रदर्शन करते हैं|

आधी रात को कई चर्च ऐसा धारण मोमबत्ती की रोशनी में सेवाएं प्रदान करते हैं सांता क्लास क्रिसमस कार्यक्रम में एक प्रसिद्ध व्यक्तित्व है| जो बच्चों को उपहार वितरित करते हैं लोग कई केक और दावते तैयार करते हैं बच्चे इस त्यौहार को पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं और उपहार के लिए उत्साहित होते हैं यह उपहार माता-पिता और दोस्तों द्वारा दिए जाते हैं|

क्रिसमस डे की हार्दिक शुभकामनाएं (Wishes Merry Christmas in Hindi)

  • चांदनी अपनी चांदनी बिखरी है, और तारों ने आसमान को सजाया है,

लेकर तोहफा अमन और प्यार का,

देखो स्वर्ग से कोई फरिश्ता आया है,

मैरी क्रिसमस बधाई हो|

  • क्रिसमस का जादू है परिवार को एक साथ लाना,

प्यार की धड़कन साझा करना,

हंसी और ढेर सारी खुशियां,

आपको क्रिसमस पर देखने की लालसा है| मेरी क्रिसमस

FAQ’s

क्रिसमस क्यों मनाया जाता है?

इस दिन यीशु मसीह का जन्मदिन हुआ था इसलिए उनके जन्मदिन के उपलक्ष में क्रिसमस का त्यौहार मनाया जाता है|

क्रिसमस का त्यौहार कब मनाया जाएगा?

25 दिसंबर को क्रिसमस का त्यौहार मनाया जाएगा|

क्रिसमस ट्री का पौधा कैसा होता है?

क्रिसमस ट्री का पौधा हरे रंग का होता है जिस पर रंगीन झालर बोल लाइट और गिफ्ट लगे होते हैं यह आर्टिफिशियल पौधा होता है|

ईसा मसीह किसके पुत्र थे?

ईसा मसीह ही यानी यीशु मां मेरी और यूसुफ के पुत्र थे जिन्हें ईश्वर की संतान भी कहा जाता है|

Leave a Comment