निवास प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे? Domicile Certificate Kaise Banaye

Niwas Praman Patra: आप सभी ने निवास प्रमाण पत्र का नाम जरूर सुना होगा इसको भारत सरकार और राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाता है यह आपके द्वारा बताए गए निवास स्थान पत्ते को प्रमाणित करता है कि आप वर्तमान समय में ही इस स्थान पर रहते हैं जब आप किसी स्कूल कॉलेज या किसी सरकारी नौकरी के लिए आवेदन करते हैं तब भी निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है जिस प्रकार आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, पैन कार्ड आदि जरूरी होते हैं| उसी प्रकार निवास प्रमाण पत्र भी बहुत जरूरी दस्तावेज होता है पहले आपको निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए तहसील जाना होता था वहां आपको किसी वकील द्वारा Domical Certificate बनवाना पड़ता था लेकिन अब निवास प्रमाण पत्र को आप घर बैठे आसानी से ऑनलाइन माध्यम से बनवा सकते हैं|

यदि आप भी Niwas Praman Patra घर बैठे आसानी से बनवाना चाहते हैं और निवास प्रमाण पत्र के बारे में सभी जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारी आज की पोस्ट को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें|

Niwas Praman Patra Kya Hota Hai

निवास प्रमाण पत्र एक आधिकारिक दस्तावेज होता है जो व्यक्ति के निवास स्थान की पुष्टि करता है। यह एक सरकारी दस्तावेज होता है जो निवास स्थान की पुष्टि करने के लिए उपयोगी होता है। निवास प्रमाण पत्र एक व्यक्ति के नाम, पता, निवास स्थान, और पत्र जारी करने वाले प्राधिकारी के साथ अन्य विवरणों का विवरण करता है।

ये भी पढ़ेजन्म प्रमाण पत्र (Birth Certificate) क्या होता है 
ये भी पढ़ेआय प्रमाण पत्र ऑनलाइन कैसे बनवाएं

निवास प्रमाण पत्र का उपयोग कहां कहां होता है

  • निवास प्रमाण पत्र को विभिन्न उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाता है, जैसे कि:
  • नागरिकता प्रमाण के लिए: नागरिकता अधिनियम के तहत नागरिकता का प्रमाण पत्र के रूप में निवास प्रमाण पत्र का उपयोग होता है।
  • आय का प्रमाण के लिए: आयकर विभाग द्वारा आय के प्रमाण के रूप में निवास प्रमाण पत्र का उपयोग होता है।
  • वोटर आईडी के लिए: चुनाव आयोग द्वारा निवास प्रमाण पत्र का उपयोग वोटर आईडी के लिए प्रमाण पत्र के रूप में किया जाता है।
  • शिक्षा या रोजगार के लिए: कई शैक्षणिक और नियोजन संस्थानों में निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है।

निवास प्रमाण पत्र आपकी पहचान को सत्यापित करने के लिए उपयोगी होता है और आपको विभिन्न सरकारी योजनाओं और सुविधाओं का लाभ उठाने में मदद करता है। आपके द्वारा प्राप्त किए गए संबंधित सरकारी दस्तावेजों के साथ, निवास प्रमाण पत्र आपकी पहचान को सत्यापित करने वाली एक महत्वपूर्ण दस्तावेज होता है।



विकलांग प्रमाण पत्र EWS प्रमाण पत्रड्राइविंग लाइसेंस की फीस कितनी है

निवास प्रमाण पत्र से मिलने वाले लाभ

अब हम आपको डोमिसाइल सर्टिफिकेट से मिलने वाले लाभ के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे|

  • सरकार द्वारा जारी की गई कई योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए निवास प्रमाण पत्र की मांग की जाती है|
  • बच्चों को स्कूल या कॉलेज में एडमिशन लेते समय इसकी आवश्यकता होती है|
  • सरकारी व गैर सरकारी कार्यों में भी निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है|
  • किसी प्रकार की छात्रवृत्ति हेतु निवास प्रमाण पत्र का प्रयोग किया जाता है|
  • कई प्रकार के दस्तावेज जैसे- जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र बनाने के लिए कार्यालयों में निवास प्रमाण पत्र को मांगा जाता है|

Download Domicile Certificate

राज्य ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल
उत्तराखंडhttp://edistrict.uk.gov.in/
दिल्ली https://edistrict.delhigovt.nic.in/
मध्य प्रदेशhttps://mpedistrict.gov.in/MPL/Home.aspx
चंडीगढ़http://chdservices.gov.in/
बिहारhttps://serviceonline.bihar.gov.in/
हिमाचल प्रदेशhttps://edistrict.hp.gov.in/

Domicile Certificate हेतु ऑनलाइन आवेदन

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य की e-sathi वेबसाइट या e-district साइट को ओपन करना होगा|
  • इसके बाद आपको लॉगइन अकाउंट बनाना होगा|
  • इसके लिए नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण पर क्लिक करें|
  • अब पंजीकरण फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक भरे|
  • अब पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन के माध्यम से लॉगिन करें|
  • लॉग इन करने के बाद पेज पर दिए गए आवेदन को चुने और उस सेवा को चुनें जिसमें आपको आवेदन करना है|
  • इसके बाद निवास प्रमाण पत्र पर क्लिक करें|
  • निवास प्रमाण पत्र पर क्लिक करने के बाद पेज पर दी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरें क्योंकि इसी प्रपत्र द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार ही आपका डोमिसाइल सर्टिफिकेट तैयार किया जाता है|
  • आवेदन प्रपत्र में भरी जाने वाली जानकारी इस प्रकार है|
  • क्षेत्र को चुने- जो निवासी गांव से है वह ग्रामीण पर क्लिक करें और शहरी व्यक्ति नागरिक को चुने|
  • प्रार्थी- आवेदन कर्ता अपना नाम दर्ज करें|
  • पिता/पति का नाम -आवेदन करने वाला व्यक्ति अपने पिता का नाम या विवाहित है तो अपने पति का नाम डालें|
  • माता का नाम|
  • जन्मतिथि|
  • जन्म स्थान|
  • पता आवेदन करने वाला व्यक्ति वर्तमान समय में रह रहे स्थान को भरे|
  • मोहल्ला ग्राम पंचायत नागरिक व्यक्ति मोहल्ला एवं ग्रामीण व्यक्ति ग्राम पंचायत के नाम को भरें|
  • जनपद को चुने|
  • तहसील को चुने|
  • ग्राम को चुने|
  • मोबाइल नंबर भरे|
  • निवास की अवधि आवेदन करता उस निवास पर रह रहे समय को भरे|
  • प्रमाण पत्र बनाने की आवश्यकता निवास पत्र को बनाने के कारण को भरें|
  • क्या इससे पूर्व निवास प्रमाण पत्र जारी हुआ है हां/ नहीं|
  • आवेदन शुल्क का भुगतान कर दिया है हां /नहीं|
  • आधार संख्या आवेदन करता वरना आधार संख्या को भरें|
  • सभी मांगी गई जानकारियों को मरने के बाद अपने सभी दस्तावेजों को अपलोड करें|
  • जैसे- फोटो, आधार, कार्ड की फोटो, स्वप्रमाणित पत्र|
  • प्रपत्र पर दी गई सभी जानकारी भरने के बाद सेवा शुल्क का भुगतान करें|
  • शुल्क का भुगतान प्रपत्र के आवेदित करने के 24 घंटे से पहले कर ले अन्यथा आपका आवेदन पूरा नहीं माना जाएगा|
  • भुगतान होने पर आपको आवेदन संख्या उपलब्ध करा दिया जाता है और आवेदित मोबाइल नंबर पर संदेश द्वारा आपको सूचित कर दिया जाता है|
  • इसके बाद पावती पर्ची (Acknowledgement Slip) प्राप्त करने के लिए होम पेज पर लिंक दिया गया है लिंक पर क्लिक करें और आवेदन संख्या को दर्ज कर पावती पर्ची डाउनलोड करें|
डीबीटी (DBT) क्या है 
प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने

Domicile Certificate डाउनलोड कैसे करें

  • सबसे पहले आपको ही साथिया e-district साइड ओपन करनी होगी|
  • इसके बाद आवेदन करते समय उपयोग किए गए यूजरनेम और पासवर्ड को डालकर लॉगिन करें|
  • लॉग इन करने के बाद निस्तारित आवेदन के विकल्प को चुनें|
  • निस्तारित आवेदन के विकल्प को चुनने के बाद आपके सामने आवेदित प्रमाण पत्र की आवेदन संख्या दिखाई देगी|
  • आवेदन संख्या पर क्लिक करें आपका प्रमाण पत्र स्क्रीन पर दिख जाएगा और आप इसे डाउनलोड कर प्रिंट कर सकते हैं|
Niwas Praman Patra in Hindi
  • यदि किसी वजह से डोमिसाइल सर्टिफिकेट का बनने पर आप आवेदन की स्थिति पर जाकर उसकी स्थिति को देख सकते हैं|

FAQ’s – Related Niwas Praman Patra

निवास प्रमाण पत्र क्या है?

मूल निवास प्रमाण पत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसके माध्यम से व्यक्ति के मूल रूप से उस स्थान में रहने का पता लगता है यह राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाता है|

निवास प्रमाण पत्र की वैधता कितने समय के लिए होती है?

(Niwas Praman Patra) निवास प्रमाण पत्र की वैधता लगभग 3 वर्ष तक की होती है इसके बाद आपको निवास प्रमाण पत्र के लिए दोबारा आवेदन करना होता है|

निवास प्रमाण पत्र बनने में कितना समय लगता है?

निवास प्रमाण पत्र बनाने में 7 से 15 दिन लगते हैं|

Leave a Comment