Database क्या है इसके प्रकार व उपयोग (What is Database in Hindi)

(Database Kya Hai) -यदि आपका कोई छोटा सा बिजनेस है सरकारी संस्था है, या मल्टीनेशनल कंपनी है, या कोई वेबसाइट है, या फिर वह एप्लीकेशन है यहां तक कि आप अपने मोबाइल में जो गेम खेलते हैं या कोई ऑनलाइन वीडियो देखते हैं हर जगह डाटा ही डाटा है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि इतने सारे डेटा को आखिर कहां रखा जाता है और उसे कैसे मैनेज किया जाता है तो हम आपको बता दें कि यह सभी डेटाबेस की मदद से ही संभव हो पाता है यही कारण है कि आज के लेख के माध्यम से हम आपको Database Kya Hai से संबंधित सभी विस्तार पूर्वक जानकारियां प्रदान करेंगे|

Database Kya Hai के अलावा हम आपको डेटाबेस का उपयोग कहां कहां होता है डेटाबेस के क्या फायदे और नुकसान हैं इसके प्रकार डेटाबेस का इतिहास इसकी विशेषताएं आदि के बारे में सभी विस्तार पूर्वक जानकारियां इस लेख के अंतर्गत हम आपको प्रदान करेंगे इन सभी जानकारियों को जानने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें

Database Kya Hai (What is Database)

डेटाबेस के सारे डेटा का एक समूह होता है डाटा को डेटाबेस में एक व्यवस्थित तरीके से स्टोर किया जाता है जिससे आवश्यकता पड़ने पर इन्हें आसानी से एक्सेस किया जा सके इसके लिए किसी विशेष सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम का उपयोग किया जाता है| आपने माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल का उपयोग तो किया ही होगा जहां पर हम डाटा स्टोर करने के लिए एक टेबल का उपयोग करते हैं जिसे हम अलग-अलग कई सारे कॉलम में डिवाइड करते हैं ताकि हमारा कार्य आसानी से हो सके|

इसी प्रकार डेटाबेस में भी डाटा को एक टेबल में स्टोर किया जाता है जिसमें कई सारी Columns और Raw होती हैं जिनकी वजह से उन्हें Excess करना आसान हो जाता है|



एक डेटाबेस के अंदर ऐसी कई सारे टेबल्स हो सकते हैं इंटरनेट पर मौजूद ऐसे बहुत से dynamic website है जो Database उपयोग करते हैं|

उदाहरण के तौर पर आप फेसबुक को ही ले लीजिए जिस पर यूजर के बारे में कई सारे डेटा जैसे  Name, Mobile Number, Profile pictures, Friends, Message, Post, Status आदि सभी details सरवर में उपस्थित डेटाबेस में ही स्टोर रहती है|

ये भी पढ़े – Computer Shortcut Keys List
ये भी पढ़े – USB Kya Hai

Database का इतिहास

  • 1960 के दशक की शुरुआत में पहला कंप्यूटरीकृत डेटाबेस Charles Bachman ने तैयार किया था|
  • डेटाबेस का इतिहास दो शुरुआती कंप्यूटरीकृत उदाहरणों से शुरू होता है|
  • पहला डेटाबेस एकीकृत डाटा स्टोर Integrated Data Store या (IDS) के रूप में जाना जाता है|
  • दूसरा डेटाबेस IDB के तुरंत बाद सूचना प्रबंधन प्रणाली Information Management System (IBM) के द्वारा बनाया गया एक डेटाबेस था|

डेटाबेस का उपयोग कहां कहां होता है

ऐसे बहुत से उदाहरण है जहां डेटाबेस का उपयोग होता है नीचे कुछ उदाहरण के बारे में हम आपको बताएंगे जहां डेटाबेस का उपयोग होता है|

ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग

आप चाहे यूट्यूब पर वीडियो देखते हो या नेटफ्लिक्स पर अपनी मनपसंद वेब सीरीज देखते हो हर वीडियो स्ट्रीमिंग साइट अपने डाटा को मैनेज करने के लिए डेटाबेस का उपयोग करता है| जहां पर वीडियो की डिटेल्स से लेकर देखने वाले यूजर्स का भी जानकारी स्टोर होती है|

ऑनलाइन गेमिंग

यदि आपने पब्जी गेम खेलना है अगर हां तो आपने देखा होगा कि इस गेम में एक साथ कई मिलियंस यूजर गेम खेल रहे होते हैं| लेकिन क्या आपने सोचा है कि इतने सारे यूजर्स और उनके नाम से लेकर उनके गेमिंग हिस्ट्री कैसे मैनेज की जाती होगी जाहिर सी बात है कि यहां भी डेटाबेस का उपयोग होता है और इसके बिना यह संभव नहीं है|

शेयर मार्केट स्टॉक मार्केट में सैकड़ों कंपनियां रजिस्टर्ड है और इनके शेर हर सेकंड में ऊपर नीचे होते रहते हैं यहां प्रतिदिन अरबों रुपयों से भी अधिक के लेनदेन होते हैं इन सबके हिसाब कहां रहते होंगे यहां भी डेटाबेस का ही उपयोग होता है|

सोशल मीडिया

हम सभी फेसबुक टि्वटर गूगल प्लस जैसे सोशल मीडिया वेबसाइट पर है ताकि हम अपने विचारों को साझा कर सकें और अपने दोस्तों के साथ जुड़ सके| इन Social Media Plateforms पर लाखों उपयोगकर्ताओं ने Sign up किया है लेकिन उपयोगकर्ताओं की सभी जानकारियां कैसे संग्रहित की जाती है और हम अन्य लोगों से कैसे जुड़ पाते हैं यह भी डेटाबेस का ही कार्य होता है|

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट

आप किसी भी ई-कॉमर्स वेबसाइट से कुछ भी खरीदे उसकी जानकारी कई सालों तक सुरक्षित रहती है जिसे आप अपनी शॉपिंग हिस्ट्री में अभी भी देख सकते हैं यहां भी डेटाबेस का ही उपयोग होता है|

Database Software क्या है

डेटाबेस सॉफ्टवेयर का उपयोग डेटाबेस फाइलों और रिकॉर्ड को बनाने संपादित करने और बनाए रखने के लिए किया जाता है|

  • Database आसान फाइल और रिकॉर्ड निर्माण डेटा प्रविष्टि डेटा संपादन अद्यतन और रिपोर्टिंग को सक्षम करता है|
  • सॉफ्टवेयर डाटा स्टोरेज बैकअप और रिपोर्टिंग मल्टी एक्सेस कंट्रोल और सुरक्षा को भी डाटा बेस्ड सॉफ्टवेयर संभालता है|

डेटाबेस के फायदे

  • डेटाबेस के फायदे निम्न प्रकार है जिनमें से कुछ फायदा के बारे में हम आपको बताने वाले हैं|
  • Database के माध्यम से कम स्पेस में भी अधिक डाटा स्टोर किया जा सकता है|
  • एक डेटाबेस अतिरिक्त डेटा को कम करता है|
  • डेटाबेस के माध्यम से किसी भी जानकारी को आसानी से Excess किया जा सकता है|
  • डाटा को Filter करना आसान है|
  • मैं डाटा को इंसर्ट करना पुराने डाटा को Edit करना और Delete करना आसान है|
  • डाटा को अलग-अलग प्रकार से Sort किया जा सकता है|
  • एक ही डेटाबेस को कई सारे Applications या Users एक साथ Excess कर सकते हैं|
  • किसी Database Table से डाटा को Import, Export करना बहुत आसान है|
  • पेपर फाइल्स की तुलना में अधिक Security Provide करता है|
  • सूचना Quality और Consistency में सुधार करता है|
  • डेटाबेस उपयोगकर्ताओं को आसानी से डाटा तक पहुंचने की अनुमति देता है|
  • प्रोग्राम और डाटा को एक दूसरे से अलग रखता है|
  • Backup और Recovery जैसी सुविधाएं प्रदान करता है|

Database के नुकसान

डेटाबेस के फायदों के साथ-साथ कुछ नुकसान भी है जिनके बारे में भी आपको जानकारी होनी चाहिए इसलिए हमने इसके नुकसान के बारे में नीचे बताया है|

  • एक डेटाबेस को डिजाइन करने में काफी समय लगता है|
  • डेटाबेस विफलता सबसे बड़े नुकसान में से एक है|
  • यह जटिल कार्य क्षमता है जिसके लिए विशिष्ट कौशल की आवश्यकता होती है|
  • डेटाबेस का मुख्य नुकसान हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की लागत है|
ये भी पढ़े – सर्च इंजन क्या है?
ये भी पढ़े – MS Word क्या है?

डेटाबेस की विशेषताएं (Features of Database)

Database की महत्वपूर्ण विशेषताएं इस प्रकार है

  • डेटाबेस डाटा प्रबंधन को आसान बनाते हैं
  • Database डाटा का आसान भंडारण प्रदान करते हैं
  • डेटाबेस डाटा को ट्रैक करने में आसान बनाता है
  • यह डाटा या सूचना को बनाए रखने में सहायता करता है
  • डाटा के कई दृश्यों का समर्थन करता है
  • डेटाबेस डाटा बैकअप करने में सहायता करता है|

डेटाबेस के प्रकार (Types Of Database)

Database Kya Hai

कई बार अलग-अलग प्रकार के कार्यों को करने के लिए विभिन्न प्रकार के डेटाबेस का उपयोग किया जाता है आवश्यकता के अनुसार डेटाबेस का अलग-अलग प्रकार से वर्गीकरण किया गया है जिनमें से कुछ डेटाबेस के प्रकार के बारे में नीचे बताया गया है

Relational Database

यह बहुत ही Popular Database Type है 1980 के दशक से इसका बहुत अधिक उपयोग हो रहा है इसमें डाटा को कॉलम और रो में रखा जाता है और अलग-अलग टेबल बनाए जाते हैं जो कि आपस में एक दूसरे से रिलेटेड होते हैं उन्हें Structured Query Language (SQL) के द्वारा आपस में जोड़कर उपयोग किया जाता है

Distributed Database

जैसा कि नाम से ही पता लगाया जा सकता है की Distributed Database  यानी डेटाबेस के फाइल एक ही स्थान पर ना होकर अलग-अलग कंप्यूटर डिवाइस और अलग-अलग स्थान पर होते हैं इससे डेटाबेस की स्पीड और साइज बढ़ाने में सहायता होती है|

Object Orient Database

ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड डेटाबेस में डाटा को ऑब्जेक्ट और क्लास के रूप में रिप्रेजेंट किया जाता है जहां ऑब्जेक्टिव रियल वर्ल्ड डाटा होता है जैसे- मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि और एक क्लास में कई सारे ऑब्जेक्ट्स हो सकते हैं यह भी एक प्रकार की Relation Database है|

Graph Database

ग्राफ डाटा बेस में डाटा के बीच Relationship को अधिक महत्व दिया जाता है इसमें डाटा के साथ-साथ उनके बीच Relationship को Database के अंदर ही स्टोर किया जाता है|

Leave a Comment